लोकल ट्रेनें हुईं सामान्य पर सब्जियों के दाम अभी भी जेब से बाहर

रसोई का बजट बिगड़ा
टमाटर 80 रु. तो कैप्सिकम 150 रु. पार
लोकल सब्जियों की आमद कम
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य में लोकल ट्रेन सेवाएं सामान्य हो गयी हैं, बावजूद इसके सब्जियों के दाम में उछाल देखने काे मिल रही है। हरी सब्जियों के दाम इतने अधिक हैं कि रसोई का बजट बिगड़ रहा है। हालांकि यह उम्मीद जतायी जा रही है कि अगले एक सप्ताह में दाम में कमी आ सकती है। सब्जी विक्रेताओं का कहना है कि स्टेशन से बाजार तक सब्जियों को ले जाने में खर्च अधिक हो रहा है। इसके साथ ही लोकल सब्जियों की आमद कम है तथा पहले काफी सब्जियां खेतों में ही नष्ट हो गयी हैं। इन सभी कारणों से सब्जियों के दाम में कमी नहीं आ पा रही है। टास्क फोर्स के सदस्य रवींद्रनाथ कोले ने कहा कि पिछले 15 दिनों की तुलना में सब्जियों के दाम में 20 प्रतिशत कमी आयी है हालांकि उत्पादन कम है जिसके कारण सब्जियां ज्यादा सस्ती नहीं हो पा रही हैं।
एक नजर सब्जियों की कीमत पर
पटल – अभी 50 रु. पहले 80 रु.
भिंडी – 60 रु. पहले 80 रु.
करैला – 70 रु. पहले 80 रु.
कैप्सिकम – 150 रु. पहले 200 रु.
टमाटर – 80 रु. पहले 100 रु.
बैंगन – 50 रु. पहले 80 रु.
एक सप्ताह में घट सकते हैं दाम
टास्क फोर्स की माने ताे अगले सात दिनों में सब्जियों के दाम में कमी आ सकती है जब लोकल सब्जियां जैसे बैंगन, गोभी, बंधा गोभी मंडी में आने लगेगी। उन्होंने बताया कि लोकल सब्जियों की आमद कम होने के कारण रेट में नहीं गिरावट हो रही है।
टमाटर यूं ही रहेंगे ‘लाल’
टमाटर खाने के शौकीन लोगों को यूं ही अपनी जेब ढीली करनी पड़ सकती है क्योंकि फिलहाल टमाटर के भाव कम होने के आसार कम हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि टमाटर बंगाल के बाहर से आ रहे हैं तथा परिवहन खर्च काफी ज्यादा हो रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबर : साल्टलेक में महिला वकील से रेप की को​शिश

सन्मार्ग संवाददाता विधाननगर : सोशल मीडिया पर युवती से दोस्ती कर उससे दुष्कर्म की कोशिश करने वाले अभियुक्त को पुलिस ने गिरफ्तार ‌किया है। घटना विधाननगर आगे पढ़ें »

ऊपर