भाजपा की सांगठनिक बैठक में नेताओं ने निकाले भड़ास

लॉकेट ने कहा, सत्ता के लालच में पहले ही चौंधिया गये थे कई नेता
अर्जुन ने उम्मीदवारों की चयन प्रक्रिया पर उठायी अंगुली
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : मंगलवार को प्रदेश भाजपा की पदाधिकारियों की बैठक में नेताओं ने विधानसभा चुनाव में भाजपा के प्रदर्शन पर चर्चा की और हार के कारणों पर मंथन भी किया। इस दौरान कई नेताओं ने हार को लेकर अपने मत प्रकाश करने के साथ ही अपने भड़ास भी निकाले। बैठक में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष, राहुल सिन्हा, प्रदेश उपाध्यक्ष प्रताप बनर्जी,प्रदेश भाजपा के महासचिव संजय सिंह,सांसद ज्योतिर्मय सिंह महतो, लॉकेट चटर्जी व सौमित्र खां के अलावा विधायक अग्निमित्रा पॉल, सव्यसाची दत्ता व अन्य मौजूद थे। इस दौरान विभिन्न नेताओं ने अलग – अलग तरीके से हार के कारणों पर अपने विचार रखे।
पहले ही लालच में चौंधिया गये कई नेता
सूत्रों का कहना है कि पार्टी की हार को लेकर भाजपा सांसद लॉकेट चटर्जी ने खूब अपनी भड़ास निकाली। इस दौरान उन्होंने कहा कि चुनाव के समय जब भाजपा की ओर हवा थी तो उसी समय से कुछ ब्लॉक व जिला स्तर के नेता लालच में आकर चौंधिया गये थे। नतीजे आने के पहले से ही वि​भिन्न स्थानों से खबरें आ रही थीं कि कहीं कोई नेता जाकर धमकी देता कि 2 तारीख के बाद देख लेंगे तो कहीं कोई कहता कि 2 तारीख के बाद ये इलाका उनके कंट्रोल में होगा। मंडल से लेकर बूथ स्तर तक लोगों को डराया – धमकाया गया। इस तरह की बातों से लोगों ने भा​जपा से मुंह मोड़ लिया और टीएमसी की ओर चले गये।
उम्मीदवारों की चयन प्रक्रिया पर उठाये गये सवाल
भाजपा की बैठक में उम्मीदवारों की चयन प्र​क्रिया पर भी सवाल उठाये गये। पार्टी सूत्रों के अनुसार, भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने भी बैठक में अपनी भड़ास निकाली। उन्होंने कहा है कि उम्मीदवारों की चयन प्रक्रिया ठीक से नहीं हुई। हमें केवल होटल में बुला लिया जाता था और 4-4 घण्टे हमें वहीं बैठाते थे। सूत्रों की मानें तो अर्जुन ने कहा है कि उम्मीदवारों को लेकर चर्चा किसी और नाम को लेकर होती थी जबकि घोषणा किसी और के नाम की कर दी जाती थी। चुनाव के लिए जो रुपये भेजे गये, उनका भी इस्तेमाल सही ढंग से नहीं हुआ। अब भी ऐसा ही चल रहा है, जहां कार्यकर्ता मार खा रहे हैं, वहां नेता नहीं पहुंच रहे, आज हमें सलाह लेने के लिए बुलाया जा रहा है।
ईवीएम का मुद्दा भी उठा
पार्टी सूत्रों की मानें तो बैठक में ईवीएम का मुद्दा भी उठा। भाजपा की प्रदेश उपाध्यक्ष भारती घोष ने ईवीएम पर सवाल उठाये और आरोप लगाया कि ईवीएम के साथ ही गड़बड़ी की गयी है। उन्होंने यह भी अपील की कि आगे बैलट पेपर के माध्यम से चुनाव कराने की कोशिश की जानी चाहिये।
वहीं सव्यसाची दत्ता ने कहा कि बेघर लोगों को गांधी मूर्ति के निकट एकजुट करें और जनता के बीच बताना होगा कि किस कदर भाजपा कार्यकर्ताओं पर अत्याचार हो रहे हैं कि उन्हें मजबूरन घर से बाहर रहना पड़ रहा है। सांसद सौमित्र खां ने कहा है कि मंडल व जिला के पदाधिकारी सही ढंग से काम नहीं कर रहे हैं, इस पर ध्यान देना होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल सांसद मिमी चक्रवर्ती के साथ धोखा, फर्जी टीकाकरण शिविर में लगवा दी ‘वैक्सीन’

कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस पार्टी की सांसद मिमी चक्रवर्ती के साथ 'धोखा' हो गया है। दरअसल, सांसद चक्रवर्ती ने दावा किया है कि उन्होंने कोलकाता आगे पढ़ें »

सेंट्रल एवेन्यू के कपड़े के गोदाम में लगी आग

कोलकाताः जोड़ासांको थाना अंतर्गत 155 सेंट्रल एवेन्यू के एक बिल्डिंग के एक तल्ले पर स्थित रुमाल के गोदाम में आग लग गई। बुधवार की दोपहर आगे पढ़ें »

ऊपर