कोयला तस्करी व मवेशी तस्करी मामले में ईडी की बड़ी कार्रवाई

ED raid on rose valley

25 से अधिक स्थानों पर देर रात तक चला तलाशी अभियान
दिन भर ईडी अधिकारी दिल्ली हेडक्वार्टर्स के मॉनिटरिंग में रहे
कोलकाता : कोयला तस्करी व मवेशी तस्करी मामले में अब इंफोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ईडी) की टीम ने भी कार्रवाई शुरू कर दी है। ईडी मुख्यालय यानी कि दिल्ली हेडर्क्वाटर्स से इस पूरे छापामारी को मॉनिटर किया गया है। ईडी सूत्र बताते हैं कि इस मामले की एफआईआर भी दिल्ली में ही दर्ज की गयी है। अब तक आयकर विभाग व सीबीआई की टीम ही अनुप मांझी यानी कि लाला को अपनी गिरफ्त में लेना चाहती थी लेकिन अब ईडी का भी नाम इसमें जुड़ गया है। वहीं मवेशी तस्करी का मास्टर मांइड इनामुल हक व उससे जुड़े लोगों के यहां सोमवार को दिन भर तलाशी अ​भियान जारी रहा। कोयला तस्करी के मुख्य अभियुक्त लाला के 12 ठिकानों पर छापामारी की गयी। सूत्रों के मुताबिक ये छापामारी शिल्पांचल के आसनसोल, नितोड़िया, जामुड़िया के अलावा कोलकाता, लेक टाउन, बांगुर एवेन्यू तथा जिलों में हुगली, उत्तर 24 परगना तथा दक्षिण 24 परगना स्थित अभियुक्त व उसके सहयोगियों के आवासों व कार्यालयों में की गयी। सूत्रों के मुताबिक बाद में उसके सहयोगियों तथा आसपास रहने वाले उसके सगे-संबंधियों के यहां भी यह रेड मारा गया।
आयकर, सीबीआई की जांच के बाद एक और सेंट्रल एजेंसी के जुड़ने से हड़कंप
3-3 केन्द्रीय एजेंसियों के इसकी जांच में जुड़ने से अब दोनों मामला काफी अहम हो गया है। लाला के मामले में उसके सहयोगी नीरज सिंह जो कि कोलकाता में उसका लेनदेन का काम संभालता था, के हुगली के कोन्नगर स्थित आवास पर ईडी की टीम ने देर रात तक छापामारी की। कोन्नगर के कन्हाईपुर ग्राम पंचायत के अंतर्गत शास्त्रीनगर इलाके में केंद्रीय सुरक्षाबलों को साथ में लेकर ईडी की एक विशेष टीम व्यवसायी के आवास पर पहुंची। वहीं कोलकाता के बड़ाबाजार स्थित उसके दुकान पर भी ईडी की टीम ने छापा मारा। सूत्रों के अनुसार उसके घर से जरूरी दस्तावेज और हार्ड डिस्क आदि ईडी के अधिकारी अपने साथ ले गए। कुछ दिनों पहले इनके घर सीबीआई ने भी छापा मारा था। वहीं बांगुर एवेन्यू स्थित बगड़िया जो कि लाला के काफी नजदीकी माने जाते हैं, उनके यहां भी घंटों छापामारी की गयी है। सूत्र बताते हैं कि यह छापामारी दिल्ली स्थित हेड क्वार्टर्स में दर्ज की गयी एफआईआर के बाद कोलकाता में मारी गयी है। इसके लिए सोमवार की सुबह करीब 9 बजे से ही ईडी के इस दौरान ईडी की टीम को काफी दस्तावेज भी मिले हैं। यहां बताते चलें कि लाला के​ खिलाफ सीबीआई की टीम की ओर से लूक आउट नोटिस जारी की जा चुकी है। अब तक लाला का कोई भी एजेंसी के पास सुराग नहीं है। वहीं मवेशी तस्करी मामले में इनामुल हक जेल हिरासत में है तथा बीएसएफ कमांडेंट सतीश कुमार जमानत पर हैं। सूत्र बताते हैं कि कोलकाता से इसकी जांच हो, इसके लिए यह छापामारी जरूरी थी।
इन धाराओं में दर्ज है मामला
ईडी के सूत्रों ने बताया कि कोयला एवं मवेशी तस्करी मामले में प्रिवेंशन ऑफ मनी लाउंडरिंग एक्ट के तहत मामला दायर कर छापेमारी शुरू की गई है। छापामारी का मकसद यह पता लगाना है कि इन तस्करी से मिलने वाली मोटी रकम कहां जाती है ? इस रैकेट के तार किन-किन लोगों से जुड़े हैं। आरोप है कि हवाला कारोबारियों के माध्यम से तस्करी के रुपये का मोटा हिस्सा विदेश भेजा जाता था। इसमें फेमा एक्ट के तहत मामला किया गया है। इससे पूर्व ईडी, कोलकाता ने इनामुल के मामले में जांच की थी जो कि अब भी जारी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

गर्दन के दर्द से ऐसे पायें छुटकारा

आधुनिक बीमारियों में गर्दन में अकड़न और दर्द भी एक प्रचलित रोग है। जो लोग डेस्क जॉब करते हैं, अधिक लिखते-पढ़ते हैं या टी. वी. आगे पढ़ें »

मसाज से मिले चुस्ती-फुर्ती

व्यस्त व भागदौड़ भरी जिंदगी में थक जाना व थकावट आम बात है। ऐसी स्थिति में मसाज अर्थात मालिश लाभ पहुंचाती है एवं थकावट दूर आगे पढ़ें »

ऊपर