कोविड के नियम माने गये पर उत्साह कहीं भी नहीं था कम


कोलकाता : बंगाल में कोरोना काल के बीच दुर्गा पूजा का त्योहार मनाया गया। इस दौरान कोविड के नियम तो माने गये पर उत्साह भी कम नहीं हुआ। कोरोना के कारण कुछ इस तरह की दुर्गा पूजा भी देखने को मिलेगी, ऐसा किसी ने नहीं सोचा होगा। सप्तमी के दिन भीड़ कुछ कम जरूर दिखी, लेकिन अष्टमी के दिन पंडालों के सामने लोग नजर आये। हालांकि नवमी के दिन फिर सड़कों पर भीड़ कम ही दिखायी दी। वहीं पूजा स्थलों पर पिछले वर्ष की तरह मेला नहीं लगने से बाहरी रौनक जरूर कुछ फीकी लगी। कोरोना को लेकर इस वर्ष दुर्गा पूजा के लिए जिला प्रशासन की ओर से कई गाइडलाइन जारी किए गए थे जिसको मानते हुए आयोजकों ने भी मेला लगाने की अनुमति नहीं दी। इस कारण अधिकांश पूजा स्थलों का परिसर सूना-सूना लगा।
इस बार पंडालों के अंदर जाने की नहीं थी अनुमति
कोरोना को देखते हुए हाई कोर्ट की ओर से इस बार पंडालों के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी गयी थी। ऐसे में सप्तमी से लेकर दशमी तक पंडालों के सामने से ही लोगों ने दर्शन किये। लाेगों ने पंडालों के सामने ही सेल्फी भी ली। ऐसा पहली बार हुआ जब पंडाल के अंदर लोगों को जाने नहीं दिया गया।
ना मेला, ना झूला, पहली बार ऐसी दुर्गा पूजा
यह भी पहली बार है कि बगैर मेला और झूला के इतनी सादगी के साथ दुर्गा पूजा संपन्न हुई हो। हर बार बड़े मैदान में होने वाली दुर्गा पूजा में मेला व झूला से लेकर फूड स्टॉल लगाये जाते हैं, लेकिन इस बार कोरोना के कारण ये सब नहीं हुआ। कुछ जगहों पर जहां फूड स्टॉल लगाये गये थे, वहां पैकेज्ड आइटम दिये जा रहे थे। हालांकि फूड स्टॉलों पर भी लोग कम ही थे।
कई पंडालों में नहीं हुई अंजलि और सिंदूर खेला
इस बार कई पूजा पंडालों में महाअष्टमी के दिन ना तो अंजलि हुई और ना ही दशमी के दिन सिंदूर खेला हुआ। ये दोनों ही परंपराएं दुर्गा पूजा की शुरुआत से होती आ रही हैं, लेकिन इस बार कोरोना काल ने इस पर भी ग्रहण लगा दिया। कई पूजा कमेटियों ने तो एक बार में 15 लोगों के साथ अंजलि दिलवायी तो कई पूजा पंडालों में केवल आयोजकों ने अंजलि में ​हिस्सा लिया। वहीं कुछ पूजा पंडाल ऐसे भी थे जिनमें इस बार अंजलि नहीं हुई। इसी तरह कई पूजा पंडालों में केवल आयोजकों ने सिंदूर खेला में हिस्सा लिया, मगर कई पंडालों में सिंदूर खेला नहीं हुआ।
बाबूघाट में हुआ मूर्तियों का विसर्जन
गत साेमवार और मंगलवार को भी बाबूघाट में मां दुर्गा की प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। बाबूघाट के अलावा विभिन्न घाटों पर भी पुलिस की ओर से सुरक्षा के तमाम इंतजाम किये गये थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

देश में कोविड-19 के मामले  94.99 लाख पार

नयी दिल्ली : देश में बुधवार को कोविड-19 के 36,604 नए मामले सामने आने के बाद कुल मामले बढ़कर 94.99 लाख से अधिक हो गए, आगे पढ़ें »

योगी ने बजाई घंटी, बीएसई में हुई लखनऊ म्यूनिसिपल बॉन्ड की एंट्री

लखनऊ : नगर निगम का बॉन्ड बुधवार को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में सूचीबद्ध हो गया। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार ने मुंबई स्थित आगे पढ़ें »

ऊपर