कोलकाताः मृत बच्चे के शव का होगा पोस्टमार्टम

कोलकाताः गर्भवती महिला मृत बच्चे को जन्म क्यों देती है इसकी वजह जानने के लिए पहली बार राज्य में किसी बच्चे के शव की पैथोलॉजिकल ऑटोप्सी की जायेगी। आरजीकर मेडिकल कॉलेज अस्पताल के फॉरेन्सिक मेडिसिन विभाग के प्रधान डॉ सोमनाथ दास मृत बच्चे के शव का पोस्टमार्टम करेंगे। पैथोलोजिकल ऑटोप्सी के तहत मृत व्यक्ति के अंगों की स्थिति का परीक्षण कर रोग के कारणों एवं दुष्प्रभावों का विश्लेषणात्मक अध्ययन किया जाता है।
पश्चिम बंगाल में ‘इंट्रा यूटेरियन फिटल डेथ’ को लेकर स्त्री व प्रसूति रोग विशेषज्ञों और चिकित्सकों का मानना है कि पैथोलॉजिकल ऑटोप्सी करना जरूरी है। स्वास्थ्य भवन व आरजीकर मेडिकल कॉलेज सूत्रों के मुताबिक, पंजाब के रूपनगर के वाशिंदा नवनीत सिंह अपनी गर्भवती पत्नी रूपा विश्वास को लेकर कुछ समय से दक्षिण कोलकाता के न्यू अलीपुर में रह रहे थे। उस गर्भवती महिला ने शनिवार को न्यू अलीपुर के एक गैर सरकारी अस्पताल में एक मृत बच्चे को जन्म दिया। इसे लेकर काफी हंगामा मचा। उस दंपति ने अपने बच्चे का पोस्टमार्टम करवाने का फैसला लिया हैं। दंपति का कहना है कि उनका बच्चा स्वस्थ था, फिर मृत बच्चे ने कैसे जन्म लिया। इसके बाद ही मृत बच्चे का शव आरजी कर मेडिकल कॉलेज के फॉरेनसिक मेडिसिन ‌विभाग को सौंप दिया गया। विभागीय प्रमुख अध्यापक डॉ सोमनाथ दास ने बताया बच्चा अचानक मां के गर्भ में क्यों मर जाता है। इस बारे में अभी तक कोई प्रयोग नहीं किया गया है। ‌इसलिए कुछ भी कहना अभी मु‌श्किल है। मृत बच्चे का पोस्टमार्टम करने से पता चल जायेगा कि बच्चे की मौत क्यों हुई।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पूर्वी भारत कभी दिल्ली के अत्याचार को बर्दाश्त नहीं करता – शुखेंदु

बिहार में हो रही राजनीतिक उथल-पुथल पर सुखेंदु शेखर ने दिया बयान सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : बिहार की राजनीति में जो भी उथल-पुथल हो रहे हैं, यह आगे पढ़ें »

ऊपर