बड़ी खबरः डिजिटल हुआ कोलकाता नगर निगम, सब कुछ मिलेगा ऑनलाइन

बिल्डिंग प्लान से लेकर वाटर सप्लाई तक की व्यवस्था एक क्लिक में
अवैध पार्किंग पर कसेगा शिकंजा, दूर होगा बेतरतीब तारों का जंजाल
फुटपाथों पर बैठे हॉकरों के लिए बनेगी नीति
सोनू ओझा 
कोलकाता : आने वाले 5 सालों में और बदलेगा कोलकाता। बदलेगी कोलकातावासियों को मिलने वाली परिसेवाएं, बदलेगा कोलकाता का स्वरूप। बनी रहेगी पारदर्शिता, हर कुछ होगा डिजिटल। कोलकाता नगर निगम के मेयर फिरहाद हकीम ने महानगरवासियों को संबो​धित करते हुए कहा कि मेयर के तौर पर लोगों की जरूरतों और अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने का अथक प्रयास करूंगा। मंगलवार को फिरहाद हकीम ने मेयर पद की शपथ लेने के बाद संवाददाताओं को बताया कि कोलकाता के लिए उनका जो विजन है वह क्लीयर है। इसमें कोलकाता के चहुंमुखी विकास पर फोकस किया गया है, साथ ही ध्यान रखा जाएगा कि कोलकाता में रहने वाले लोगों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।
ऑनलाइन परिसेवा के लिए होगा ऐप
मेयर फिरहाद हकीम ने बताया कि कोलकाता नगर निगम को पूरी तरह डिजिटल किया जा रहा है। बिल्डिंग प्लान, ड्रेनेज, वाटर सप्लाई, म्यूटेशन, टैक्स, जन्म व डेथ प्रमाणपत्र, ट्रेड लाइसेंस, ग्रिवियांस सहित सभी परिसेवाएं अब ऑनलाइन होंगी। इसके लिए अब लोगों को अलग-अलग दफ्तरों में चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा।
अवैध पार्किंग रोकने के लिए आयेगा ऐप
महानगर में अवैध पार्किंग सबसे बड़ी समस्या मानी जाती है। इसे दूर करने के लिए अब नया ऐप के माध्यम से पार्किंग की व्यवस्था की जाएगी। मेयर ने बताया कि ऐप में ही कार की पार्किंग की जगह, एरिया, रेट की जानकारी दी रहेगी। इस सिस्टम के बाहर अगर कोई पा​र्किंग की अवैध वसूली करते पकड़ा जाता है तो उसका लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा।
बिल्डिंग प्लान के लिए सिंगल विंडो सिस्टम
बि​​ल्डिंग प्लान को लेकर मेयर ने बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि सिंगल विंडो सिस्टम के तहत अब प्लान सेंशन किया जाएगा। बिल्डिंग प्लान के लिए करीब 10 से 12 विभागों की एनओसी की आवश्यकता होती है, वह सभी एनओसी एक ही छत के नीचे मिल जाएंगे। इससे लोगों का समय भी नष्ट नहीं होगा तथा काम में पारदर्शिता बनी रहेगी।
नीले-काले प्लास्टिक की छांव में नहीं बैठेंगे हॉकर
हॉकरों को लेकर जल्द एक नीति तैयार होगी जिसके तहत कहीं भी बैठने वाले हॉकरों को सिस्टम के अनुसार बैठने की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए हॉकरों के साथ बैठक भी होगी। प्रस्तावित नीति में जोर दिया जाएगा कि हॉकर कहीं भी नीले-काले प्लास्टिक से ढके स्टॉल न लगाकर निगम के साथ सहयोग करें। मेयर ने गरिया का उदाहरण देते हुए कहा कि जैसे वहां हॉकरों के लिए व्यवस्था की गयी है वैसे ही पूरे कोलकाता में हॉकरों के लिए सिस्टम बनाकर बैठने की व्यवस्था की जाएगी।
कोलकाता होगा सुंदर, तार और विज्ञापन इधर-उधर नहीं
कोलकाता की खूबसूरती को लेकर मेयर ने कहा कि कहीं भी टंगे विज्ञापनों को लेकर भी नीति बनेगी तथा जहां-तहां लटके तारों के जंजाल को दूर करने का काम जल्द चालू होगा। सड़क मरम्मत को लेकर भी मैकेनिकल मैस्टिक से सड़कों का निर्माण किया जाएगा।
बड़ाबाजार में बनेगा वाटर ट्रीटमेंट प्लांट
बड़ाबाजार, टॉलीगंज और यादवपुर में पेयजलापूर्ति की समस्या जल्द दूर की जाएगी। मेयर ने कहा ​जयहिन्द के तहत यहां वाटर ट्रीटमेंट प्लांट बनेगा ताकि लोगों को इलाके में पानी की समस्या न हो। दूसरी तरफ निकासी व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए भी परियोजना पर काम चालू किया जाएगा।
वायु प्रदूषण रोकने के लिए बढ़ेगी हरियाली
मेयर ने बताया कि कोलकाता की महत्वपूण समस्या वायु प्रदूषण है, जिसे दूर करना हमारी प्राथमिकता होगी। इसके लिए जहां भी जगह मिलेगा वहां ग्रीन स्पेस बनाया जाएगा। प्रदूषित वायु रोकने के लिए मिस्ट कैनन का इस्तेमाल किया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

कोलकाता में कोविड पॉजिटिविटी रेट घटकर 32.68% पर

कलिम्पोंग में कोविड पॉजि‌टिविटी रेट 36.52% के रूप में सबसे अधिक सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः ओमिक्रॉन वेरिएंट के आने के बाद प्रदेश में कोरोना का ग्राफ काफी बढ़ता आगे पढ़ें »

ऊपर