मेट्रो में सफर करने वालों के लिए बड़ी खबर

कोलकाताः मेट्रो ट्रेन में सफर करने वालों के लिए राहत की खबर है। लॉकडाउन के बाद से ही मेट्रो ट्रेन की संख्या आधी से भी कम कर  दी गई थी। यात्रियों को ई-पास लेकर सफर करना पड़ता था लेकिन अब उन्हें ऐसे झंझट में नहीं पड़ना होगा। दरअसल, मेट्रो रेल महाप्रबंधक मनोज जोशी ने कहा की ‘कोलकाता मेट्रो रेल का सफर करने वालों को अब ई-पास दिखाने की कोई आवश्कता नहीं है’| 18 जनवरी सोमवार से मेट्रो की सेवा सामान्य रूप से संचालित की जाएगी|
बुधवार को मेट्रो रेलवे ने औपचारिक अधिसूचना जारी की जिसमें लिखा था कि ‘अब से व्यस्ततम समय पर मेट्रो 6 मिनट की अंतराल में चलेगी। इसके अलावा 12 और सेवाएं शुरू की जाएगी। कुल मिला कर 240 “मेट्रो ट्रेन” चलेंगी’|
288 का आंकड़ा पहुंचने तक…
इसके अलावा यह भी कहा गया है की मेट्रो रेल की संख्या जब तक पूर्व कोविड परिस्थिति यानी की 288 मेट्रो रेल की सेवाओं तक नहीं पहुंच जाती तब तक एक-एक कर मेट्रो की संख्या में इजाफा किया जाएगा।
25 फीसदी यात्री सफर करते हैं
आगे मनोज जोशी ने कहा कि ‘लॉकडाउन के बाद मात्र 25 फीसदी यात्री सफर करते हैं लेकिन अब कोविड की परिस्थिति में काफी सुधार आया है’|’
नहीं दिया जाएगा टोकन
टोकन’ अब भी नहीं दिया जाएगा, लेकिन डिजिटल पास की आवश्यकता नहीं है| स्कूल और कॉलेज अभी नहीं खुले है, कोविड के मानदंड के साथ सेवाएं जारी रखी जा सकती हैं। जो लोग उपनगरों से हैं और डिजिटल पास के कारण मेट्रो सेवा का उपयोग नहीं कर पाते वे भी अब मेट्रो में सफर कर सकेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

केशपुर में वोट लूटे नहीं जाते तो भाजपा की जीत होतीः शुभेंदु

मिदनापुर: एक समय तृणमूल के हेवीवेट नेता माने जाने वाले राज्य के मंत्री रहे शुभेंदु अधिकारी तृणमूल से नाता तोड़ने के बाद भाजपा के होकर आगे पढ़ें »

voter card

तनिक भी मिली लापरवाही तो गिरेगी गाजः चुनाव आयोग

कानून व्यवस्था की रिपोर्ट से असंतुष्ट कहा नहीं मानी आयोग की बात तो कड़ी कार्रवाई सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः चुनाव आयोग ने राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति को आगे पढ़ें »

ऊपर