नीले-सफेद रंग से सजा कोलकाता प्रेरणा बना दूसरे शहरों के लिए : ममता

बोलीं : 2011 में मुझ पर अर्जेंटीना बनाने का लगाया गया था आरोप
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : 2011 में पहली बार सत्ता में आने के साथ ही ममता सरकार ने कोलकाता को सफेद-नीले रंग से सजाने का बीड़ा उठाया था। तब से अब तक कोलकाता में सड़क, घाट, मकान लगभग हर कुछ इसी रंग में रंगा जा चुका है। ममता बनर्जी ने गुरुवार को अपने इस फैसले को याद कराते हुए कहा कि आज यही सफेद-नीले रंग में सजा कोलकाता देश के बारी शहरों के लिए प्रेरणा बन गया है। ममता गुरुवार को दक्षिण कोलकाता में कोलकाता नगर निगम चुनाव की सभा को संबोधित कर रही थीं। ममता ने कहा कि उस वक्त मुझ पर आरोप लगाया गया था कि मैं अर्जेंटीना बनाने की कोशिश कर रही हूं। आज मुंबई, दिल्ली यहां तक कि कर्नाटक में भी सफेद-नीले रंग का अनुसरण किया जा रहा है। मेरा सपना था कोलकाता को सजाने का जो मैंने किया, आने वाले समय में भी इसी तरह कोलकाता को सजाने का काम चालू रहेगा। ममता ने कहा कि कल भी मेरा लक्ष्य कोलकाता का सुंदरीकरण था, कल भी मेरा मकसद यही रहेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बंगालः पति ने पत्नी को किया चाकू से लहूलुहान, एसिड भी फेंका

घोला : घोला थाना अंतर्गत बिलकांदा ग्राम पंचायत के कर्णमधुपुर निवासी रिया दास पर बुधवार उसके पति विप्लव दास ने चाकू से हमला करते हुए आगे पढ़ें »

ऊपर