लगातार तीसरे साल देश का सबसे सुरक्षित शहर बना कोलकाता

एनसीआरबी की रिपोर्ट में हुआ खुलासा
एनसीआरबी ने वर्ष 2020 के क्राइम रिकॉर्ड किये जारी
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : पूरे देश में एक बार फिर सबसे सुरक्षित शहर के तौर पर महानगर कोलकाता उभर कर आया है। लगातार तीसरे साल एनसीआरबी रिकॉर्ड के अनुसार कोलकाता शहर देश के सभी बड़े शहरों में सबसे सुरक्षित है। यही नहीं बीते तीन सालों में लगातार महानगर में आपराधिक घटनाओं में भी कमी दर्ज की गई है। खासतौर पर मंगलवार को नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो द्वारा वर्ष 2020 के क्राइम रिकॉर्ड जारी किए गए। एनसीआरबी द्वारा जारी रिपोर्ट में दिये गये आंकड़ों के मुताबिक वर्ष 2020 में प्रत्येक एक लाख लोगों में कोलकाता में आपराधिक मामला 129.5 दर्ज किया गया है। वहीं दिल्ली में अपराधिक मामलों का आंकड़ा 1608.6 , चेन्नई में 1937.1 और अहमदाबाद में 1300 दर्ज किया गया।
इसके अलावा एनसीआरबी रिपोर्ट के अनुसार कोलकाता शहर में कुल आपराधिक मामलों की संख्या में भी काफी कमी दर्ज की गई है। महानगर में जहां वर्ष 2018 में 19682 आपराधिक मामले दर्ज किये गये, वर्ष 2019 में यह संख्या घटकर 17324 हो गयी, वर्ष 2020 में महानगर में 15517 आपराधिक मामले दर्ज किए गए ।
महिलाओं के साथ होने वाली आपराधिक घटनाओं की बात करें तो वर्ष 2020 में दहेज उत्पीड़न से कोलकाता में 9 महिलाओं की जान गयी थी, दिल्ली में यह संख्या 111, लखनऊ में 48, वहीं कानपुर में 30 मामले सामने आये। वर्ष 2020 में कोलकाता में कुल 11 दुष्कर्म के मामले सामने आये, यह संख्या दिल्ली में 967, जयपुर में 409, मुंबई में 322, बगलुरु में 108 दुष्कर्म के मामले दर्ज किए गये थे। पिछले वर्ष 2020 में कोलकाता में छेड़खानी के 303 मामले सामने आये थे, जबकि दिल्ली में 1805 और मुंबई में इस तरह के 1509 मामले सामने आये थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

त्रिपुरा में महिला सांसद पर हमला, अभिषेक ने कहा : गुंडाराज चल रहा

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : त्रिपुरा में तृणमूल की राज्यसभा महिला सांसद सुष्मिता देव पर हमला हुआ है। उनकी गाड़ी में जमकर तोड़फोड़ की गयी है। यह आगे पढ़ें »

ऊपर