घरों में कलिता करती हैं काम, भाजपा ने दिया टिकट

कहा, इस खुशी को शब्दों में बयां नहीं कर सकती
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : भाजपा ने इस बार विधानसभा चुनाव में कुछ ऐसे लोगों को भी टिकट दिया है जो काफी गरीब और समाज के पिछड़े वर्ग से हैं। भाजपा के इन्हीं उम्मीदवारों में से एक हैं आउसग्राम विधानसभा की भाजपा उम्मीदवार कलिता माझी। गुसकरा की रहने वाली कलिता के घर पर उनकी सास-ससुर, पति, दो देवर और एक संतान हैं। ससुर को पैरा​लिसिस है और पति प्लमबर का काम करते हैं। भाजपा से टिकट पाकर जैसे कलिता की खुशी का कोई ठिकाना ही नहीं है। कलिता माझी से सन्मार्ग ने खास बातचीत की जिसमें उन्होंने कहा कि भाजपा ने उन्हें जो मौका दिया है, उसका एहसान वह कभी नहीं उतार पायेंगी।
15 वर्षों से लोगों के घरों में कर रही हैं काम
कलिता पिछले 15 वर्षों से लोगों के घरों में काम करती आ रही हैं। 5 वर्षों पहले वह भाजपा से जुड़ीं। वर्तमान में कलिता गुसकरा नगर मण्डल भाजपा की सचिव हैं। कलिता ने कहा कि उम्मीदवार बनने के लिए उन्होंने आवेदन भी नहीं किया था। कभी सोचा भी नहीं था कि पार्टी उन पर इतना भरोसा करेगी कि उन्हें उम्मीदवार बना देगी।
जब पता चला, बर्तन मांज रही थी कलिता
कलिता को जब अपने उम्मीदवार बनने का पता चला तो उस समय वह किसी और के घर पर बर्तन मांज रही थीं। कलिता ने कहा, ‘मुझे स्थानीय भाजपा नेता ने बताया कि पार्टी ने मुझे टिकट दिया है। मुझे यह बात हजम ही नहीं हुई। मैं काफी घबरा गयी थी, दो बार पानी पीने के बाद मुझे इस बात पर भरोसा हुआ कि पार्टी ने मुझे टिकट दिया है। इसके बाद मुझे सीधे भाजपा कार्यालय में ले जाया गया जहां मुझे सम्मानित किया गया।’
चौथी पास भी नहीं हूं, मेरे लिए यह सपने जैसा
आउसग्राम सीट से भाजपा की उम्मीदवार कलिता माझी ने कहा, ‘मैं चौथी पास भी नहीं हूं, मेरे लिये यह किसी सपने से कम नहीं है। मोदी जी मेरे लिए भगवान बनकर आये हैं। भाजपा ने मुझे मिट्टी से उठाकर इतना बड़ा काम दिया है।’
जीतने के बाद पहला काम अस्पताल बनवाना
चुनाव में जीतने के बाद कलिता माझी पहला काम अस्पताल बनवाने का करेंगी। उन्होंने कहा ​कि हमारे जिले में अस्पताल तो है, लेकिन ढंग का इलाज नहीं होता। इसके अलावा सड़क से लेकर लोगों की सभी समस्याओं के प्रति उनका ध्यान रहेगा।
एक नजर आउसग्राम सीट पर
आउसग्राम विधानसभा सीट पूर्व बर्दवान जिले में आती है। इस सीट को अधिसूचित जाति के लिए आरक्षित किया गया है। तृणमूल के आने से पहले तक इस सीट पर माकपा का दबदबा रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल ने फिर 3 चरणों के चुनाव को 1 चरण में कराने की मांग की

सीईओ आरिज आफताब को सौंपा ज्ञापन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः तृणमूल कांग्रेस ने एक बार फिर से कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर राज्य के तीन चरणों के मतदान आगे पढ़ें »

90 ड्राइवरों व गार्ड के संक्रमित होने के बाद लोकल ट्रेनों का संचालन प्रभावित

कोलकाता : पूर्व रेलवे ने मंगलवार को कहा कि 90 ड्राइवरों और गार्ड के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उसने अभी तक सियालदह आगे पढ़ें »

ऊपर