जोमैटो कर्मचारियों ने बीफ डिलीवरी का किया विरोध, हड़ताल पर गए

Jomato employees protest beef delivery, go on strike

हावड़ा: ऑनलाइन फूड डिलिवरी कंपनी जोमैटो एकबार फिर धर्म को लेकर विवादों में है। इसबार जोमैटो का विरोध किसी ग्राहक ने नहीं बल्कि उसके ही कर्मचारियों ने किया है। जोमैटो के डिलीवरी एग्जिक्युटिव ने कंपनी द्वारा बीफ और सूअर के गोश्त की डिलीवरी कराए जाने को लेकर विरोध जताया है। बता दें कि यह मामला पश्चिम बंगाल के हावड़ा का है, यहां कंपनी का विरोध करने के बाद डिलीवरी करने वाले कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं।

कंपनी गोश्त ‌डिलीवरी के लिए दबाव डाल रही

जोमैटो के एक डिलीवरी एग्जिक्यूटिव के मु‌ताबिक, ‘कंपनी हमारी मांगें नहीं सुन रही है और बीफ व सुअर का गोश्त डिलिवर करने के लिए दबाव डाल रही है। इसकी वजह से हम एक हफ्ते से हड़ताल पर हैं।’ वहीं इस मामले को तूल पकड़ते देख पश्चिम बंगाल के मंत्री राजीव बनर्जी आगे आए हैं। राजीव ने कहा कि, ‘कंपनी को किसी को उनके धर्म के खिलाफ कुछ करने के लिए बाध्य नहीं करना चाहिए। यह गलत है। मुझे इस बारे में सूचना मिली है, मैं मामले को देखूंगा।’

मध्यप्रदेश में हो चुका है विवाद

गौरतलब है कि इससे पहले इसी तरह का एक मामला मध्य प्रदेश के जबलपुर में भी सामने आया था। यहां अमित शुक्ला नाम के एक शख्स ने जोमैटो द्वारा गैर-हिंदू डिलिवरी बॉय को भेजने की वजह से आपत्ति जताते हुए अपना ऑर्डर कैंसल कर दिया था। इस घटना के बाद उन्होंने जोमैटो ऐप अनइंस्‍टाल कर दिया था‌ और सारे वाकये को ट्विटर पर साझा किया था। इसपर जोमैटो ने भी अपनी प्रति‌क्रिया दी ‌थी जिसके बाद इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर काफी बहसबाजी हुई थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर