कांग्रेस और तृणमूल में बढ़ी दरारें, बैठक में नहीं शामिल होगी तृणमूल

कोलकाता : तृणमूल को इस बार संसद के आगामी शीतकालीन सत्र में कांग्रेस के साथ समन्वय करने में ‘दिलचस्पी नहीं है, लेकिन वह जनता के हित से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर अन्य विपक्षी दलों के साथ सहयोग करेगी। तृणमूल के एक नेता ने कहा कि पार्टी संभवत: कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा 29 नवंबर को बुलाई गई विपक्ष की बैठक में भी शामिल नहीं होगी। गौरतलब है कि तृणमूल के इस बयान से पहले राज्यसभा में विपक्ष के नेता खड़गे ने कहा था कि शीतकालीन सत्र में कांग्रेस तृणमूल कांग्रेस सहित सभी विपक्षी दलों के साथ समन्वय करेगी। दोनों पार्टियों के तनावपूर्ण संबंधों के बीच तृणमूल कांग्रेस ने कांग्रेस को सलाह दी है कि ‘उसे उचित आंतरिक समन्वय स्थापित करना चाहिए और पहले अपने घर को ठीक करना चाहिए।’
यह पूछने पर कि क्या तृणमूल कांग्रेस अन्य विपक्षी दलों के साथ सहयोग करेगी, पार्टी के नेता ने कहा, ‘‘जन हित में हम विभिन्न मुद्दे उठाएंगे और उनके साथ समन्वय करेंगे। हम संभवत: कांग्रेस द्वारा आहूत विपक्षी दलों की बैठक में भी शामिल नहीं होंगे।’’
भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ लड़ाई में कांग्रेस से विमुख होने के संबंध में पूछे गये सवाल पर तृणमूल कांग्रेस के नेता ने कहा, ‘‘उनके नेताओं में भाजपा के खिलाफ लड़ाई को लेकर दृढ़संकल्प की कमी है।’’ तृणमूल 29 नवंबर को मुख्यमंत्री और पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी के आवास पर पार्टी की राष्ट्रीय समन्वय समिति की बैठक करेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सोने से पहले कर लें सिर्फ इन 3 मंत्रों का जाप, अगले दिन पूरी तरह बदल जाएगी किस्मत

नई दिल्ली : शास्त्रों में देवी-देवताओं को प्रसन्न करने के लिए मंत्रों का भी उल्लेख किया गया है। कुछ शक्तिशाली मंत्र ऐसे हैं जिसके जाप आगे पढ़ें »

ऊपर