धारा 307 के मामले में भी दूसरे दिन ही मिली जमानत, सकते में हैं लोग

बैरकपुर : एक युवक को कार से न केवल धक्का देने बल्कि उसके प्रतिवाद करने पर उसे डराने के लिए उस पर गाड़ी चढ़ाने की कोशिश, साथ ही युवक को बुरी तरह पीटने के मामले में खड़दह थाने की पुलिस ने गत रविवार को अभियुक्त पुलिस अधिकारी सोमेन दास को गिरफ्तार किया। एक पुलिस कर्मी द्वारा दिखायी गयी इस क्रूरता व कानून के उल्लंघन को लेकर पहले ही लोगों के मन में सवाल खड़े हुए थे मगर यह मामला अब और चर्चाओं में आ गया है। कारण है कि घटना के वीडियो के फुटेज के साथ ही पीड़ित पक्ष ने 307 धारा के तहत मामला दर्ज करने और अभियुक्त पुलिस कर्मी की गिरफ्तारी के महज एक दिन में ही बैरकपुर कोर्ट द्वारा उसे जमानत दे दी गयी है। इससे न केवल पीड़ित परिवार, इलाके के लोग, बल्कि कोर्ट के कर्मी भी सकते में हैं। पीड़ित रवि सिंह के वकील सुभाष प्रसाद भगत ने बताया कि धारा 307 यानी हत्या की कोशिश के इरादे से किये गये अपराध के अंतर्गत पुलिस थाने द्वारा कोई जमानत का प्रावधान नहीं है। धारा 307 एक गंभीर शिकायत है अतः इतनी सहजता से इस पर जमानत शोचनीय है। उन्होंने बताया कि एसीजेएम इंचा​र्ज द्वारा पीड़ित को गंभीर चोट नहीं पहुंचने का हवाला देकर महज एक दिन में ही अभियुक्त को जमानत दी गयी है जबकि उसके विरुद्ध पहले से ही ऐसे तीन मामले चल रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक दिन जेल कस्टडी और फिर जमानत, ऐसा उन्होंने अपने करियर में कभी नहीं देखा। वहीं आरोप लगाया जा रहा कि है पुलिस कर्मी की ऊंची पहुंच से ऐसा हुआ है जिस पर अब प्रशासन की भूमिका पर भी सवाल खड़े हुए हैं। खड़दह पुलिस का कहना है कि सीसीटीवी फुटेज के वीडियो सहित कई और जरूरी दस्तावेजों को हमने कोर्ट में सौंपा है। वहीं एक दिन में अभियुक्त पुलिस कर्मी को दी गयी जमानत को लेकर पीड़ित परिवार आतंकित हो उठा है। उनका कहना है कि उनके जैसे सामान्य लोगों के लिए कानून ही सहारा है अतः वे इसके विरुद्ध उच्च न्यायालय में जायेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

भाटपाड़ा में बमबारी से लोग है आतंकित

भाटपाड़ा : भाटपाड़ा नगरपालिका के 13 नंबर वार्ड 21 नंबर गली इलाके में मंगलवार की रात बमबारी की घटना को केंद्र कर इलाके के लोग आगे पढ़ें »

ऊपर