चेतावनियों के बावजूद बेखबर : उमड़ी भीड़, पुलिस पूरी एक्शन में

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कोरोना का यह तीसरा साल है। लोगों ने कोरोना की भयावहता को देखा है। अपनों को खोने का दर्द बयान नहीं किया जा सकता है। अब तो कोरोना वायरस के वैरिएंट ओमिक्रॉन का खतरा बढ़ रहा है। इसके बावजूद अभी भी कई लोग चेते नहीं हैं। पार्क स्ट्रीट में लोग देर रात तक जश्न में डूबे रहे।वहीं विक्टोरिया, चिड़ियाखाना, इको पार्क में भीड़ रही। राज्य सरकार की तरफ से लगातार जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय लगातार चेतावनियां दे रहा है, इसके बाद भी लोगों पर कोई असर नहीं पड़ रहा है। 2021 साल के आखिरी दिन कोलकाता व राज्य के विभिन्न पर्यटन स्थलों पर भीड़ उमड़ी। आखिरी दिन को यादगार बनाने के लिए लोग हर पल को कैमरे में कैद करते हुए नजर आये, लेकिन कइयों ने कोविड के नियमों को ताख पर रख दिया। न तो मास्क पहने थे और सोशल डिस्टेंसिंग ताे कल्पना से दूर थी। इस दिन चिड़ियाखाना में घूमने 20,000 लोग पहुंचे, जबकि इको पार्क में संख्या इससे अधिक थी। यहां 21,710 लोग घूमने आये। हालांकि चिड़ियाखाना में भीड़ पहले की तुलना में कम थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

वेस्टइंडीज सीरीज के लिए टीम इंडिया घोषित:कुलदीप यादव की हुई वापसी

नई दिल्ली: भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेली जाने वाली 3 मैचों की वनडे और इतने ही मैचों की टी-20 सीरीज के लिए बहुत ही आगे पढ़ें »

ऊपर