कोविड की रफ्तार पर नहीं लगा ब्रेक, तो ‌स्थिति होगी भयावह

बढ़ते मामलों से डॉक्टर संगठनों की भी बढ़ी चिंता
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य में बढ़ते कोविड के मामलों से डॉक्टर संगठन काफी चिंतित हैं। वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम के डॉक्टर राजीव पांडेय ने कहा कि स्थिति काफी भयावह है। यदि लोग नहीं चेते तो हालात और बिगड़ सकते हैं। राज्य में बढ़ते कोविड के मामले काफी डरावने हैं। ‌यही वजह है कि वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम की ओर से मुख्य सचिव अलापन बंद्योपाध्याय, स्वास्थ्य सचिव नारायण स्वरूप निगम व चुनाव आयोग को पत्र लिखा गया है, साथ ही जागरूकता और बढ़ाने की अपील की गई है।
चिकित्सा तैयारियों को बढ़ाने की जरूरत
एसोसिएशन ऑफ हेल्थ सर्विस डॉक्टर्स (एएचएसडी), वेस्ट बंगाल के महासचिव डॉ.मानस गुमटा ने कहा कि स्थिति की भयावहता को देखते हुए फिर से विशेष सतर्क रहना होगा। वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम की ओर से डॉ. कौशिक लाहिड़ी व डॉ. पुण्यव्रत गुन ने कहा कि कोविड की भयावहता को देखते हुए दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन हो। युद्धस्तर पर सुझाए गए आवश्यक उपाय किए जाएं।
यह अपनाए उपाय
-सभी सार्वजनिक क्षेत्र के अस्पतालों (2 टायर और उससे ऊपर) में कोविड ब्लॉक और सारी वार्ड को चिह्नित करने और निर्बाध रसद आपूर्ति के साथ कुछ ही समय में परिचालन सुनिश्चित किया जाए
-चिंताजनक रोगी भार से निपटने के लिए और रुग्ण रोगियों के लिए समय पर महत्वपूर्ण देखभाल के प्रावधान को सुनिश्चित करने के लिए निजी स्वास्थ्य प्रतिष्ठानों के अधिग्रहण के लिए तत्काल उपाय करें
-आवश्यक सहायता के लिए 24 × 7 कोविड नियंत्रण कक्ष को फिर से शुरू करें और स्वास्थ्य भवन और जिला स्तर दोनों पर पात्र लोगों के लिए तत्काल प्रवेश सुनिश्चित करें
– प्रतिदिन टेली- नियंत्रण कक्ष से परामर्श पीड़ितों की नैंदानिक ​​स्थिति का पता लगाने और ट्रेसिंग के लिए उचित संवेदनशीलता के साथ फिर से अभियान शुरू किया जाना चाहिए
-किराया चार्ट के सख्त पर्यवेक्षण के साथ समर्पित एम्बुलेंस सेवाओं को उचित प्राथमिकता दी जानी चाहिए
– सभी नागरिकों के लिए कोविड के उचित सुरक्षा नियमों का सख्ती से पालन, जैसे मास्क का अनिवार्य उपयोग और सोशल डिस्टेंसिंग
-राजनीतिक दलों द्वारा विशेष रूप से चुनाव अभियानों के बीच कोविड प्रोटोकॉल का पालन

शेयर करें

मुख्य समाचार

सुनसान सड़कें, वीरान मार्केर्ट्स और…

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पिछले साल की यादें एक बार फिर से ताजा होती जा रही है। घरों में रहने के लिए लोग मजबूर हैं। सड़कें आगे पढ़ें »

इमामबाड़ा में युवती की अस्वाभाविक मौत

पुलिस का आरोप हुई है हत्या, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप सन्मार्ग संवाददाता हुगली : चुंचुड़ा थानांतर्गत इमामबाड़ा इलाके में एक युवती की अस्वाभाविक परिस्थ‌िति में आगे पढ़ें »

ऊपर