बंगाल की बेटी हूं और मेट्रो के ऐतिहासिक दिन का बनी हूं हिस्सा : स्मृति ईरानी

सियालदह मेट्रो स्टेशन का उद्घाटन – बंगाल के लिए गर्व की बात
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत के शहरी विकास मंत्रालय का धन्यवाद
​साल 2023 तक पूरी हो जायेगी 16.6 किलोमीटर की ईस्ट-वेस्ट मेट्रो परियोजना
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : सोमवार को सियालदह स्टेशन का उद्घाटन एवं सियालदह-फूलबागान मेट्रो का विस्तार किया गया। इसका उद्घाटन केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने रिमोर्ट कंट्रोल से किया। इस दौरान स्मृति ईरानी ने खुद को बंगाल की बेटी से संबोधित करते हुए कहा कि आज सियालदह मेट्रो का उद्घाटन हुआ है, वह यहां के लोगों के लिए गर्व की बात है। मैं बंगाल की रहनेवाली हूं, शायद ही कुछ लोग इस बात को जानते हैं कि साल्टलेक में उसके दादू का घर था। वह तो अब नहीं हैं लेकिन उनका घर है। मैं बागची परिवार की रहनेवाली थी। जिस ऐतिहासिक सियालदह मेट्रो स्टेशन का उद्घाटन का सौभाग्य मुझे मिला है, वह सियालदह से ​साल्टलेक सेक्टर 5 तक जायेगी। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं भारत के शहरी विकास मंत्रालय काे उन्होंने धन्यवाद दिया। हालांकि इसके पहले स्मृति ने जापान के पूर्व प्रधानमंत्री सिंजो आबे को याद करते हुए और उनकी मौत पर 1 मिनट का मौन धारण भी करवाया। उन्होंने कहा कि इस 2.33 किलोमीटर परियोजना से 35 हजार लोगों को लाभ मिलेगा। दरअसल यह लाभ लाखों लोगों को मिलेगा। वैसे भी बंगाल की मेट्रो परियोजना देश की पहली परियोजना थी। हालांकि अभी प्रधानमंत्री ने कहा कि यह गर्व की बात है कि यह मेड इन इंडिया हो रहा है। यह कहने में दो राय नहीं है कि सियालदह स्टेशन जो कि एशिया का सबसे व्यस्तम स्टेशन है, वहां पर जब मेट्रो जुड़ जायेगी तो वह उपनगरों के लोगों को आईटी सेक्टर या फिर नये उद्योग की नगरी साल्टलेक तक पहुंचायेगी। इसके साथ ही स्मृति ईरानी ने यह भी कहा कि बंगाल के लोग प्रधानमंत्री से कितना प्यार करते हैं वह मुझे यहां आकर पता चला, जब मैं सियालदह मेट्रो का परिदर्शन करने पहुंची और वहां से जब लौट रही थी, तो एक महिला ने मेरे काफिले को रोक लिया और कहा कि वह जाकर प्रधानमंत्री को नमस्कार पहुंचाएं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने महिला और बच्चों के विकास के लिए 8 हजार करोड़ रुपये दिये। वे जब हावड़ा के ग्रामीण अंचल में पहुंची तो वहां पर सभी ने पीएम को धन्यवाद दिया। स्मृति ईरानी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 25 महीने तक बंगाल के 72 लोगों को निशुल्क राशन पहुंचाया है। ग्रामीण हो या शहरी इलाके केंद्र के जलजीवन मिशन के तहत 1.77 करोड़ टैब बंगाल में लगवाये गये हैं। ई श्रम के जरिये 2.55 करोड़ लेागों को लाभ मिला है। जिस प्रकार 2.33 किलोमीटर की सियालदह-फूलबागान योजना का विस्तार हुआ है, वैसे ही अगस्त 2021 तक केंद्र ने बंगाल में 3.666 किलोमीटर हाईवे तैयार किया है। वहीं अंत में उन्होंने कहा कि साल 2023 तक बंगाल के लोगों को 16.6 किलोमीटर के ईस्ट-वेस्ट मेट्रो परियोजना का लाभ मिलेगा। इस मौके पर जापानी कांसुलेट नाकागावा कोईची ने कहा कि साल्टलेक सेक्टर 5 से हावड़ा मैदान तक की ईस्ट-वेस्ट मेट्रो परियोजना इंजीनियरिंग की बड़ी मिसाल है। इनके सभी स्टेशन अत्याधुनिक व टेक्नोलाजी से लैस हैं। इसके अलावा जीएम अरुण अरोड़ा ने केंद्रीय मंत्री को अंतिम समय में इस कार्यक्रम का हिस्सा बनने के लिए धन्यवाद दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शिक्षा मंत्री से मिला आश्वासन मगर नियुक्तियां कब ?

ब्रात्य बसु ने कहा, ‘कितने शून्य पद, एसएससी को कहा बताने’ सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य के शिक्षा मंत्री ब्रात्य बसु के साथ बैठक में नियुक्ति के आगे पढ़ें »

ऊपर