अशांत भाटपाड़ा-नैहाटी के इलाकों का मानवाधिकार कमिशन की टीम ने किया दौरा

हिंसा में मारे गये लोगों के परिवारवालों से की मुलाकात
पुलिस अधिकारियों से अब तक हुई कार्रवाई की ली जानकारी
बैरकपुर : चुनाव के बाद भी राज्यभर में जारी राजनीतिक हिंसा का जायजा लेने के लिए मानवाधिकार कमिशन की एक टीम गुरुवार की शाम से ही उत्तर 24 परगना जिले के हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा कर रही है। इस क्रम में गुरुवार की शाम को तीन सदस्यीय टीम ने बशीरहाट अंचल के हाड़वा और संदेशखाली थाने में पहुंचकर पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की। उनसे थाने में की गयी राजनीतिक हिंसा की शिकायतों के बारे में जानकारी लेने के साथ ही उन इलाकों का दौरा किया जहां विरोधी पार्टी समर्थकों को घर छोड़कर रहना पड़ रहा है। घर छोड़ने को बाध्य हुए लोगों की घर वापसी करवाने की दिशा में पुलिस और स्थानीय प्रशासन की भूमिका पर भी उन्होंने जवाब-तलब किया। वहीं इसके दूसरे दिन दो सदस्यों की टीम बैरकपुर अंचल के सबसे अधिक राजनीतिक हिंसा प्रभावित क्षेत्र जगदल, भाटपाड़ा व नैहाटी, आमडांगा, टीटागढ़ का दौरा किया। दोनों सदस्यों ने जगदल के राउता निवासी मृतका शोभारानी मंडल, मृतक भाजपा कर्मी आकाश यादव व अनुराग साव के परिवार से भी बातचीत कर घटना की जानकारी ली। उन्होंने जगदल व भाटपाड़ा, नैहाटी, टीटागढ़ थाने में पुलिस अधिकारियों से चुनावी हिंसा के बाद की गयी शिकायतों पर अब तक की हुई कार्रवाई का भी ब्योरा लिया। हत्या की घटनाओं के पीछे के कारणों, मृतकों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट तक को भी खंगाला। मानवाधिका कमिशन के अधिकारियों ने उन प्रभावित इलाकों का दौरा किया जहां लोग अभी भी डर से घर वापसी नहीं कर पा रहे हैं। टीम के एक सदस्य राजेंद्र सिंह ने कहा कि फिलहाल हम परिस्थितियों को देख रहे हैं और इसकी रिपोर्ट भेजेंगे। मानवाधिकार कमिशन की टीम के दौरे को लेकर बैरकपुर के भाजपा संगठन अध्यक्ष रॉबीन भट्टाचार्य ने कहा कि अंचल में परिस्थिति इतनी भयावह है कि इस टीम के दौरे के बाद भी फोन पर कर्मियों को धमकाया जा रहा है। इलाके के लोगों को पुलिसवाले धमका रहे हैं। ऐसी स्थिति में जरूरी है कि कठोर कदम उठाये जाएं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

महानगरः एक सप्ताह में बिना मास्क पहने घूम रहे 1278 लोगों पर हुई कार्रवाई

सड़क पर थूकने के आरोप में 65 लोगों का कटा चालान सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : बीते एक सप्ताह में महानगर की सड़कों पर ब‌िना मास्क पहने हुए आगे पढ़ें »

ऊपर