हावड़ाः चाचा नहीं लौटाए रुपये तो भतीजे ने कर दी हत्या

धुलागढ़ चेकपोस्ट में हुई हत्या का अभियुक्त यूपी से गिरफ़्तार
संकराइल पुलिस ने भेष बदलकर कर पकड़ा अभियुक्त
हावड़ा : हावड़ा के सांकरॉइल थाना अंतर्गत धुलागढ़ चेक पोस्ट में हुई ट्ट्रक ड्राइवर की हत्या की गुत्थी को आख़िर कर पुलिस ने सुलझा लिया और इस मामले के मुख्य अभियुक्त को उत्तर प्रदेश से गिरफ़्तार कर लिया गया है। अभी अभियुक्त का नाम शिवराज यादव है और उसकी गिरफ़्तारी उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ इलाक़े से की गई है। पुलिस ने उसे ट्रांजिट रिमांड पर हावड़ा लाया है और मामले की छानबीन में जुट गई है।
क्या था मामला
सांकराईल थाना की प्रभारी मधुसूदन मुखर्जी के अनुसार गत 7 मई को UP के प्रतापगढ़ का ही रहने वाला राजेश यादव नामक एक ट्रक ड्राइवर महाराष्ट्र से ट्रक लेकर धुलाकर चेकपोस्ट पहुँचा था ट्रक में माल होने के कारण और उस माल के पैसे न मिलने के कारण राजेश ने दो तीन दिन के लिए धुला गढ़ रुकने का ही मन बना लिया। इसके बाद गत ८ मई को राजेश का भतीजा शिवराज उसे लगातार फ़ोन करके उसके पास दुल्हा गढ़ पहुँच गया। बताया जाता है कि इन दोनों के बीच में कई दिनों से पैसे के लेन देन को लेकर अनबन चल रही थी और इसी बात लेकर ही शिवराज यहाँ पहुँचा था और उसने कई बार राजेश रुपया की माँग की। परंतु राजेश द्वारा रुपये न लौटाने पर शिवराज को ग़ुस्सा आ गया। इस दौरान राजेश अपनी ही ट्रक के सामने खाना बनाने का काम कर रहा था। तभी शिवराज ने सब्ज़ी काटने वाले चॉपर से राजेश की हत्या कर दी। इस घटना के बाद ही वह तुरंत फ़रार हो गया। जिसके बाद सांकराइल थाने की पुलिस छानबीन में जुट गई।
भेस बदलकर पहुँची थी पुलिस
मधुसूदन मुखर्जी ने बताया कि पिछले साढ़े तीन महीनों से पुलिस लगातार इस मामले की छानबीन में जुटी थी और अभियुक्त की तलाश कर रही थी। लेकिन पता चला था कि अभियुक्त घटना को अंजाम देकर कहीं और फ़रार हो गया था। जिसके बाद लगातार पुलिस उसकी जानकारी जुटाने में लगी हुई थी। अंत तक क़रीब एक सप्ताह पहले पुलिस को जानकारी मिली कि शिवराज अब वापस अपने घर यानी कि प्रतापगढ़ लौटाया है। तभी पुलिस वहाँ पहुँची और स्थानीय पुलिस की मदद से दो से तीन दिन शिवराज की रेकी की गई और जब पूरी जानकारी मिल गई तब पुलिस ने भेस बदला और अभियुक्त को पकड़ लिया। बाद में उसे गत बुधवार को ट्रांजिट रिमांड पर हावड़ा लाया गया और हावड़ा अदालत में पेश करते हुए उसे फिर से पूछताछ के लिए पुलिस हिरासत में ले लिया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सिंदूर खेला के बाद नम आंखों से विदा किया गया मां दुर्गा को

एकादशी के दिन भी कई पूजा पण्डालों के पास उमड़ी भीड़ कोलकाता : ‘बोलाे दुर्गा माई की...जय, आसछे बोछोर आबार होबे’ के नारों से विभिन्न विसर्जन आगे पढ़ें »

ऊपर