घोटाले में नाम न होने पर भी कैसे ईडी पहुंची अर्पिता तक

कोलकाता : एसएससी घोटाले में नाम न होने के बावजूद मॉडल व अभिनेत्री अर्पिता के आवास पर ईडी की टीम कैसे पहुंची? यह सवाल अधिकतर लोगों के मन में है। हुआ यूं कि जब ईडी की टीम ने पार्थ चटर्जी के आवास पर छापा मारा तो देखा कि कई दस्तावेज अर्पिता के भी मिले। वहीं ईडी को कुछ गुप्त सूचना भी मिली थी। इसके बाद ईडी की टीम अर्पिता के आवास पर छापामारी करने गयी। ईडी की टीम वहां पहुंच पाएगी, ऐसा किसी को भी अंदाजा नहीं था। इसके बाद ईडी की टीम ने अर्पिता के आवास पर 24 घंटे से अधिक समय तक के लिए छापामारी की। आरोप है कि ईडी की टीम को बरगलाने की कोशिश की गयी लेकिन ईडी की टीम ने उनके फ्लैट का कोई भी कोना नहीं छोड़ा। ईडी की टीम ने उनके घर में छापामारी से पहले ईडी दिल्ली हेडक्वार्टर्स से अनुमति ली थी। इसके बाद 7 से 8 अधिकारी उनके आवास पर पहुंचे थे। वहां देखा गया कि 3 रूम में से एक रूम में ताला लगा हुआ है। इसके बाद उन्हें इसे खोलने के लिए कहा गया। सूत्र बताते हैं कि इस पर अर्पिता ने कहा कि यह उनका बेड रूम है। ईडी की टीम को और ज्यादा शक हुआ क्योंकि बेडरूम को कोई लॉक क्यों रखेगा। इसके बाद इसे खोलने के लिए उन पर दबाव बनाया गया। उस रूम में घुसने पर उसके वार्डरोब से इन रुपयों को पैकेट व बैग आदि से जब्त किया गया।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग: मवेशी तस्करी मामले में सीबीआई आसनसोल…

कोलकाता: मवेशी तस्करी मामले में सीबीआई आसनसोल सीबीआई कोर्ट में पहला सप्लीमेंट्री चार्जशीट पेश करेगी। सूत्रों के मुताबिक चार्जशीट में सहगल हुसैन का नाम भी आगे पढ़ें »

ऊपर