अस्पताल हुए बेहाल, कर्मचारियों की कमी की मार

स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 5 दिन का होम आइसोलेशन
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः ज्यादातर सरकारी व निजी अस्पताल इन दिनों कर्मचारियों की कमी की मार झेल रहे हैं। अस्पताल में कर्मचारियों की कमी है, जिस कारण अस्पताल सही तरीके से संचालित करने में अस्पताल प्रबंधन को जद्दोजहद करनी पड़ रही है। सूत्रों की मानें तो सरकारी अस्पतालों खासकर देखा जा रहा है कि डॉक्टर तो हैं, लेकिन स्टाफ, नर्स, चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी कम होने के कारण अस्पताल को संचालित करने में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। राज्य में बढ़े कोविड के मामलों की रफ्तार ने कई अस्पतालों की व्यवस्था को भी अव्यवस्थित सा कर दिया है। यही वजह है कि स्वास्थ्य विभाग ने फिलहाल स्वास्थ्यकर्मियों में कोविड होने पर होम आइसोलेशन की अवधि 5 दिन करने को कहा है। हालांकि यह गंभीर मरीजों की स्थिति में लागू नहीं होगा। सूत्रों की मानें तो कोलकाता मेडिकल कॉलेज व अस्पताल, रिजनल इंस्ट्टियूट ऑफ ऑप्थलमोलॉजी (आरआईओ) को मिलाकर करीब 100 डॉक्टर, नर्स व अन्य कर्मी संक्रमित हुए हैं। हालां‌कि अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि केवल 14 लोग कोविड संक्रमित हुए हैं। दूसरी तरफ एसएसकेएम में भी कार्डियोलॉजी, ईएनटी सहित ‌विभिन्न विभागों के 26 डॉक्टर हाल के दिनों में कोविड संक्रमित मिले हैं। इसमें यदि शंभुनाथ व पुलिस अस्पताल को मिलाया जाए, तो संख्या अधिक हो सकती है। रिकवरी नर्सिंग होम के प्रमुख डॉ.एस.के.अग्रवाल ने कहा कि वास्तव में अस्पतालों में स्टाफ की कमी देखी जा रही है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग का नया दिशा-निर्देश काफी राहत देगा।
जल्द हो रही रिकवरी ऐसे में फिलहाल बड़ी परेशानी नहीं
वुडलैण्ड हॉस्पिटल की सीईओ व एमडी डॉ.रुपाली बसु ने कहा कि हमने पहले भी कोविड की लहर देखी है। ऐसे में पहले से ही हम हर परिस्थिति से निपटने को तैयार हैं। इस बार कोविड की रिकवरी जल्द है, ऐसे में कर्मियों की खास कमी नहीं नजर आ रही है। दरअसल नॉन-कोविड मरीज भी अस्पताल में कम आ रहे हैं, ऐसे में बड़ी परेशानी नहीं है।
आमरी ग्रुप ऑफ हॉस्पिटल के प्रतिनिधि ने बताया कि फिलहाल अस्पतालों में कर्मचारियों की कमी नहीं है। हालांकि जिस प्रकार से कोविड के मामले बढ़ रहे हैं, स्थिति थोड़ी संकटजनक हो सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

लिफ्ट आने से पहले कोलेप्श‌िबल गेट खोला, नीचे गिरने से हुई मौत

बार में 10 लार्ज पेग ह्वीस्की पीया था मृतक ने कोलकाता : शराब के नशे में लिफ्ट के ऊपर आने से पहले ही कोलेप्श‌िबल गेट खोलने आगे पढ़ें »

ऊपर