गृह सचिव कोरोना नियंत्रण देखरेख का भी संभालेंगे अतिरिक्त भार

कोलकाताः मुख्यमंत्री ममता बनर्जी रोजाना ही राज्य में कोविड की स्थिति की निगरानी कर रही हैं और आवश्यक दिशा-निर्देश दे रही हैं। तदनुसार, स्वास्थ्य भवन नियमित रूप से अपने चिकित्सा पर्यवेक्षण में सुधार करने की कोशिश कर रहा है। हाल ही राज्य सरकार ने कोलकाता क्षेत्र में कोविड के नियंत्रण के कार्य की देखरेख के लिए गृह सचिव हरि कृष्ण द्विवेदी को अतिरिक्त जिम्मेदारी दी है। कोविड पॉजिटिव रोगियों के उपचार के लिए बेड की संख्या बढ़ाने के अलावा, राज्य सरकार ने 200 और डॉक्टरों और 1500 नर्सिंग स्टाफ की भर्ती शुरू कर दी है।
एस.के.राय टीबी हॉस्पिटल को बनाया जाएगा 130 बेड का कोविड हॉस्पिटल
कोविड रोगियों के उपचार के लिए यादवपुर स्थित एस.के.राय टीबी हॉस्पिटल को कोविड चिकित्सा के लिए शुरू किया जाएगा। यहां कोविड मरीजों के लिए 130 बेड होंगे। गंभीर स्थिति में कोविड पॉजिटिव रोगियों के उपचार में ऑक्सीजन थेरेपी बहुत महत्वपूर्ण है। राज्य के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग ने वेंटिलेटर को अपग्रेड करने और ऐसे रोगियों के उपचार की सुविधा के लिए इसे और अधिक तरीकों से उपयोग करने की पहल की है। वेंटिलेटर मशीन में एक ह्यूमिडिफायर जोड़कर, इन वेंटिलेटर को बाइपैप, एचएफएनओ और इनवेसिव और गैर-इनवेसिव वेंटिलेटर के रूप में उपयोग करने की पहल की गई है।डॉक्टरों व पैरामेडिकल स्टॉफ को किया गया प्रशिक्षितराज्य के सभी कोविड अस्पतालों के डॉक्टरों और पैरामेडिक्स को 20 अक्टूबर को स्वास्थ्य भवन से ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया गया। कोविड चिकित्सा को लेकर क्षेत्र के विशेषज्ञ स्वास्थ्य भवन में उपस्थित थे और डॉक्टरों और पैरामेडिक्स के सवालों के जवाब भी उन्होंने दिए।
हर सप्ताह कोविड अस्पतालों के डॉक्टर व कर्मी होंगे प्रशिक्षित
स्वास्थ्य विभाग ने साप्ताहिक आधार पर राज्य के सभी कोविड अस्पतालों में डॉक्टरों और पैरामेडिक्स को ऑनलाइन प्रशिक्षण प्रदान करने का निर्णय किया है। रोगियों की चिकित्सा प्रणाली की निगरानी करने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए त्रिस्तरीय निगरानी प्रणाली शुरू की गई है। इस प्रणाली में, स्थानीय मेडिकल कॉलेजों और राज्य स्तर के विशेषज्ञ राज्य भर के कोविड अस्पतालों का दौरा कर रहे हैं और वहां चिकित्सा व्यवस्था का निरीक्षण कर रहे हैं। साथ ही डॉक्टरों और चिकित्सा कर्मचारियों को सलाह दे रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों में से एक को अस्पताल की जिम्मेदारी भी दी गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

रोहिंग्या शरणार्थियों को बांग्लादेश छोड़ा रहा इस ‘दूरदराज’ द्वीप पर

ढाका : बांग्लादेश प्रशासन ने शुक्रवार को 1,500 से ज्यादा रोहिंग्या शरणार्थियों के पहले समूह को एक दूरदराज के द्वीप पर भेजना शुरू कर दिया। आगे पढ़ें »

मेघालय में 1525 किलोग्राम विस्फोटक, 6000 डेटोनेटर बरामद छह लोग गिरफ्तार

शिलांग : मेघालय के ईस्ट जयंतिया हिल्स जिले में भारी मात्रा में विस्फोटक और डेटोनेटर के साथ छह लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने आगे पढ़ें »

ऊपर