ये है बंगाल के कुछ विवादित पंडाल…

कोलकाता : यहां हम आपको कुछ विवादित पूजा पंडालों के बारें में बताने जा रहा है। जो उद्घाटन के पहले से ही सुर्खियों में है। दमदम क्षेत्र में एक दुर्गा पूजा पंडाल की सजावट जूतों-चप्पलों से की गई है। पंडाल की इस सजावट को लेकर काभी विवाद हुआ है। इसे लेकर राजनीतिक जगत में भी हलचल मची है। शुभेंदु ने पंडाल में सजाई गई जूता और चप्पल की तस्वीर भी ट्विटर पर पोस्ट की थी। ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘दमदम पार्क में पूजा पंडाल को जूतों से सजाया गया है। ‘कलात्मक आज़ादी’ के नाम पर माँ दुर्गा का तिरस्कार करने का यह जघन्य कृत्य बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मैं मुख्य और गृह सचिव से अनुरोध करता हूँ कि वे हस्तक्षेप करें और आयोजकों को षष्ठी से पहले जूते हटाने के लिए मजबूर करें।’ शुभेंदु अधिकारी की तरह ही मेघालय के पूर्व गवर्नर व दिग्गज भाजपा नेता तथागत रॉय ने पत्रकारों से कहा है कि कला की स्वतंत्रता के नाम पर सब कुछ बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। यह देवी दुर्गा का अपमान और हमारी धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाला है।
ये रही कुछ तस्वीर


अब बात करते है दुनिया की सबसे ऊंची इमारत बुर्ज खलीफा की जो बनने के पहले से ही चर्चाओं में है। यह पंडाल इतने चर्चाओं में आ गया था कि यहां महालया से ही दर्शनार्थियों की भीड़ उमड़ने लगी। आलम ये हो गया कि सप्तमी को यहां लोगों के प्रवेश को बंद करना पड़ा। उसके अगले दिन अष्‍टमी को भी यही हुआ भीड़ के कारण फिर से इस पंडाल को बंद करना पड़ा और नवमी के दिन प्रशासन ने भीड़ के कारण बड़ा फैसला लिया कि श्री भूमि के पूजा मंडप बुर्ज खलीफा को दर्शनार्थियों के लिए महानवमी को भी बंद कर दिया जाये।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबरः फिर उबला भाटपाड़ा, समाज विरोधियाें ने लहराये हथियार, घायल किये लोगों को

भाटपाड़ा : भाटपाड़ा एक बार फिर उबला। यहां समाजविरोधियों ने हथियार लहराते हुए लोगों को घायल कर दिया। भाटपाड़ा थाना अंतर्गत मद्राल नेताजी मोड़ इलाके आगे पढ़ें »

ऊपर