मूसलधार बारिश से जलमग्न हुआ सिलीगुड़ी और पहाड़

rain

सिलीगुड़ी/कालिम्पोंग: सिलीगुड़ी सहित पहाड़ के विभिन्न हिस्सों में पिछले 24 घंटों से जारी मूसलधार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। सिलीगुड़ी में बारिश के दौरान कई पेड़ गिरने और बारिश का पानी जमा होने से एक ओर जहां आवागमन में बाधा पहुंची वहीं शहर के विभिन्न हिस्सों में लोडशेडिंग के कारण भी लोगों को बड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ा। वहीं सिलीगुड़ी-गंगटोक रूट के 29 माइल के पास एनएच 10 पर भयावह भूस्खलन के कारण सिक्किम और कालिम्पोंग का संपर्क देश के अन्य हिस्सों से कट गया।

भूस्खलन के वक्त अचानक पहाड़ के ऊपरी हिस्सों से बड़ी बड़ी चट्टानें एनएच 10 पर गिरने से वहां काफी मात्रा में मलबा जमा हो गया और एनएच बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। मंगलवार को इस हादसे में वहां से गुजर रहे करीब 20 वाहन बाल बाल बचे। हादसे के तुरंत बाद ही कालिम्पोंग जिला प्रशासन ने उक्त मार्ग की मरम्मत होने तक वाहनों के आवागमन को तुरंत रोक दिया। वहां फंसे वाहनों को किसी तरह बाहर निकाला जा सका। वहीं कुछ वाहन मलवे में धंस जाने से काफी देर तक वहीं फंसे रहे। इधर सिलीगुड़ी में मूसलधार बारिश के बीच पूरा शहर सुनसान हो गया। महानंदा नदी में जलस्तर बढ़ने से आसपास के लोगों को सतर्क कर दिया गया है। इसके साथ ही चंपासरी, हैदरपाड़ा, इस्कॉन रोड के साथ साथ फुलेश्वरी जैसे इलाकों में बारिश का पानी जमा होने से लोगों को काफी परेशानी हुई।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोरोना से प्रभावित हुई भारत में सोने की खरीद, तीसरी तिमाही में मांग 30% गिरी

मुंबई: कोरोना महामारी से जुड़े व्यवधानों तथा ऊंची कीमतों के कारण सितंबर तिमाही में भारत में सोने की मांग साल भर पहले की तुलना में आगे पढ़ें »

आंखों के डार्क सर्कल का आसान घरेलू उपाचार

आंखों के नीचे डार्क सर्कंल एक आम समस्या है। चेहरे की सुंदरता पर ग्रहण से लगते हैं डार्क सर्कल्स। नींद पूरी न होने पर, असंतुलित आगे पढ़ें »

ऊपर