रिकॉल पिटिशन की सुनवायी चीफ जस्टिस के आने पर

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य सरकार की तरफ से दायर रिकॉल पिटिशन पर सुनवायी एक्टिंग चीफ जस्टिस के आने के बाद होगी। इन दिनों एक्टिंग चीफ जस्टिस राजेश बिंदल अवकाश पर है। जस्टिस आई पी मुखर्जी के डिविजन बेंच ने वृहस्पतिवार को यह आदेश दिया।
राज्य सरकार की तरफ से एडवोकेट कपिल सिब्बल और एडवोकेट ‌अभिषेक मनु सिंघवी ने इस बाबत जस्टिस मुखर्जी के डिविजन बेंच में सुबह मेशन कर के सुनवायी करने की अपील की थी। इस पर जस्टिस मुखर्जी ने कहा कि एक्टिंग चीफ जस्टिस के आने के बाद ही सुनवायी होगी। यहां गौरतलब है कि चुनाव बाद हिंसा के मामले की सुनवायी करते हुए एक्टिंग चीफ जस्टिस राजेश बिंदल, जस्टिस आई पी मुखर्जी, जस्टिस हरीश टंडन, जस्टिस सौमेन सेन और जस्टिस सुब्रत तालुकदार के स्पेशल बेंच ने दो जुलाई को आदेश दिया था। इस आदेश के कुछ हिस्से पर सरकार को एतराज है। राज्य सरकार की दलील थी कि उसे कुछ कहने का मौका दिए बगैर यह आदेश दिया गया है। इसलिए राज्य सरकार की तरफ से इस आदेश को रिकॉल करने की अपील करते हुए पिटिशन दायर किया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पिछले 4 हफ्तों से सात राज्यों के 22 जिलों में फिर से बढ़ रहे कोरोना के नए मामले

नई दिल्लीः देश के सात राज्यों के 22 जिलों में कोरोना संक्रमण के नए मामलों में एक बार फिर से बढ़ोतरी ने केन्द्र और प्रदेश आगे पढ़ें »

ऊपर