रातोंरात स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी का तबादला, उठ रहे सवाल

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य स्वास्थ्य शिक्षा के विशेष सचिव का तबादला रातोंरात कर दिया गया है। डॉ.तमाल कांति घोष को पुरुलिया स्थानांतरित कर दिया गया है। अधिकांश डॉक्टरों का दावा है कि इस तरह का स्थानांतरण अपमानजनक है, लेकिन यह अचानक ट्रांसफर क्यों? कुछ का दावा है कि स्वास्थ्य शिक्षा के विशेष सचिव का तबादला उत्तर बंगाल लॉबी की नापसंदगी के कारण किया गया था। विशेष सचिव (चिकित्सा शिक्षा) तमाल कांति घोष का तबादला पुरुलिया देेवेन महतो मेडिकल कॉलेज में पैथोलॉजी के प्रोफेसर के तौर पर कर दिया गया है। दूसरे शब्दों में, एक डॉक्टर जो इतने लंबे समय से स्वास्थ्य ‌विभाग के इतने महत्वपूर्ण पद पर हैं, उसे केवल पुरुलिया में प्रोफेसर के रूप में भेजा गया है।
1256 नर्सों के तबादले को लेकर भी वितर्क
इस बीच 1,256 स्टाफ नर्सों का भी तबादला कर दिया गया है। उन्हें विभिन्न स्तरों के अस्पतालों से स्वास्थ्य केंद्रों में स्थानांतरित किया गया है। स्वास्थ्य भवन ने राज्य के विभिन्न जिलों में विभिन्न स्तरों के अस्पतालों में कार्यरत स्टाफ नर्सों और स्वास्थ्य सहायकों का तबादला किया है। इसे लेकर सर्विस डॉक्टर्स फोरम (एसडीएफ) के महासचिव डॉ. सजल विश्वास ने कहा कि हम इस प्रकार के अचानक किए तबादले की निंदा करते हैं। इस पर आंदोलन किया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

इंडिया गेट की जगह अब नेशनल वॉर मेमोरियल में जलेगी अमर जवान ज्योति

आज किया जाएगा लौ को शिफ्ट, 50 साल पुरानी परंपरा में बदलाव नई दिल्ली : देश की राजधानी दिल्ली में 50 साल से इंडिया गेट की आगे पढ़ें »

ऊपर