पूर्व माकपा विधायक को 18 घंटे के बाद अस्पताल में मिला बेड

मिदनापुर: एक समय जिस माकपा नेता व विधायक की जिले भर में तूती बोलती थी उसी माकपा नेता को 18 घंटों तक मिदनापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल के रोगी विभाग में जमीन पर सोना पड़ा। उनके बारे में प्रचार होने के बाद उन्हें बेड दिया गया। उनका नाम है दिवाकर हंसदा। मालूम हो कि दिवाकर हंसदा 2011 से लेकर 2016 तक झाड़ग्राम के बीनपुर के विधायक थे। उन्हें पेट की तकलीफ थी और हाल ही में इलाज के दौरान पता चला कि उनके गॉलब्लैडर में स्टोन है। जिसके ऑपरेशन के लिये रविवार की शाम को मिदनापुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती हुये थे। उन्हें अस्पताल के पुरुष विभाग के सर्जिकल वार्ड में भर्ती किया गया लेकिन वहां पर उन्हे बेड नही मिला उन्हे जमीन पर ही लेटना पड़ा। जिसके बारे में जब लोगों से अस्पताल प्रबंधन को जानकारी मिली तो अंततः सोमवार की रात को प्रायः 9 बजे के समय उन्हे बेड दिया गया। अस्पताल प्रबंधन का इस बारे में कहना है कि अस्पताल में बेड की कमी होने के कारण ही समस्या हुई थी। वहीं घटना को लेकर वाम नेताओं का कहना है कि सरकारी स्वास्थय परिसेवा विज्ञापन तक ही सीमित है लेकिन हकीकत कुछ और है। जब कि तृणमूल नेताओं का कहना है कि वाम जमाने से वर्तमान समय में सरकारी अस्पतालों में स्वास्थय परिसेवा काफी अच्छी है जिसके कारण रोगियों की संख्या ज्यादा हो रही है और उसके कारण कई बार रोगियों को बेड नहीं मिलता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

स्वतंत्रता दिवस पर महानगर में तैनात रहेंगे 2500 पुलिस कर्मी

रेड रोड में मौजूद रहेंगे 1200 पुलिस कर्मी 6 वॉच टॉवर, 11 बंकर और 3 क्यूआरटी किए गए तैनात 6 ज्वाइंट सीपी, 20 डीसी और 40 एसीपी आगे पढ़ें »

ऊपर