सावन शुरू होते ही फूलों के दामों में उछाल, फलों के दाम भी बढ़े

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : सावन महीने की शुरूआत हो चुकी है। सावन मास को लेकर भक्तों में खासा उत्साह नजर आ रहा है। भक्तगण भगवान शिव की भक्ति के लिए तैयारियों में जुटने लगे हैं। वहीं सावन महीना शुरू होते ही फल – फूलों के दाम में भी उछाल देखा जा रहा है।
क्या कहना है फूलबाजार समिति का
मल्लिकघाट फूल बाजार परिचालन समिति के वाइस चेयरमैन स्वपन बर्मन ने कहा कि सावन में फूलों का दाम थोड़ा बढ़ा है। अभी तक लॉकडाउन के कारण बाजार एकदम मंडा था। सावन में थोड़ा – थोड़ा बाजार उठने की उम्मीद है।
फूलों की सजीं दुकानें
सावन को लेकर फूलों की दुकानें तो सज गई हैं, लेकिन दाम में भी बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। बेलपत्र, माला के दाम भी कई जगहों पर पहले की तुलना में अधिक ली जा रही है। बेलपत्र, पुष्प, भांग धतूरा आदि के दाम बढ़े हैं। फूल बेचने वाले एक दुकानदार का कहना है कि पिछले कई महीनों से हमलोगों की दुकानदारी पहले की तरह नहीं चल रही थी। सावन महीने में उम्मीद है कि दुकानदारी होगी।
सावन से किसानों को उम्मीद
जैसा कि अभी भी लोकल ट्रेनें नहीं चलने से अधिक किराया देकर फूलों को कोलकाता लाया जा रहा है। कई किसानों तो फूल की खपत नहीं होने के चलते फसल को नष्ट कर दिया। ऐसे में सावन में फूलों की खपत अधिक होने की उम्मीद है। फुल विक्रेता का कहना है कि कोरोना फूल की खेती को पूरी तरह खत्म कर दिया। इसी कारण फूल महंगा हुआ है।
फलों के दाम भी बढ़े
फल विक्रेता की मानें तो सावन के महीने में हर बार ही फल के रेट थोड़े बहुत बढ़ते हैं। अभी सेव के दाम 200 रु. प्रति केजी से अधिक में बिक रहा है। वहीं अमरूद, केला, अनार के दामों में भी एक सप्ताह में बढ़ोत्तरी हुई है। अलग – अलग बाजारों में दाम में थोड़ी बहुत अंतर देखी जा सकती है। ऐसे में सोमवार व्रत करने वालों को महंगाई की मार भी झेलनी पड़ रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सुकांत मजूमदार और सांसद अर्जुन सिंह पहुंचे…

कोलकाता : दमदम के मोतीझील बांधव नगर में दो दिन पहले करंट लगने से दो किशोरियों की मौत हो गयी। शुक्रवार शाम भाजपा के नये आगे पढ़ें »

ऊपर