12 घण्टे में साल का पहला चक्रवात ‘असानी’, राज्य में भारी बारिश के आसार

तूफान को लेकर मौसम विभाग ने किया अलर्ट
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः बंगाल की खाड़ी में आया तूफान रविवार को तेज होकर चक्रवात में बदल गया, जिसकी रफ्तार 60 किलोमीटर प्रति घंटे से अधिक है। मौसम विभाग ने कहा कि ‘असानी’ नाम के चक्रवाती तूफान के अगले 12 घंटों में और तेज होने की आशंका है। अलीपुर मौसम विभाग के निदेशक जी.के. दास ने कहा कि चक्रवात तूफान कहीं टकराएगा नहीं। यह ओड़िशा कोस्ट में जाकर कमजोर पड़ जाएगा। हालां‌कि एहतियातन तटवर्ती इलाकों को अलर्ट किया गया है।
बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवाती तूफान ‘असानी’
भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने जारी बुलेटिन में कहा कि अगले 12 घंटों के दौरान तूफान के उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ने और पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक गंभीर चक्रवाती तूफान में परिवर्तित होकर और तेज होने की आशंका है। मौसम ‌विभाग द्वारा चक्रवात के पूर्वानुमान के अनुसार, चक्रवात के 10 मई की शाम तक उत्तर-पश्चिम की तरफ बढ़ने और उत्तरी आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटों से बंगाल की खाड़ी के पश्चिम-मध्य और उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र तक पहुंचने के आसार हैं। इसके बाद, इसके उत्तर-उत्तर-पूर्व की तरफ मुड़ने और ओडिशा तट से दूर बंगाल की खाड़ी के उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र की ओर बढ़ने की प्रबल संभावना है। अलीपुर मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान असानी को लेकर राज्य को अलर्ट किया है। मौसम विभाग ने कहा कि तूफान के असर से बंगाल के गंगा तटवर्ती इलाकों में भारी बारिश हो सकती है। विशेषकर बंगाल के तटीय जिलों और कोलकाता सहित राज्य के दक्षिण बंगाल जिलों में मंगलवार से हल्की से मध्यम बारिश होने की आशंका है। मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे 10 मई से अगली सूचना तक समुद्र में नहीं जाएं। अलर्ट के अनुसार 10-12 मई को राज्य के तटीय इलाकों में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। पूर्व व पश्चिम मिदनापुर और दक्षिण व उत्तर 24 परगना में बारिश होगी। मछुआरों व पर्यटकों को समुद्र तट पर जाने की मनाही की गई है।
महानगर में भी हल्की से मध्यम बारिश
चक्रवाती तूफान के कमजोर पड़ने के बाद भी संभावना है कि राज्य के विभिन्न हिस्सों में बारिश होगी। इसके साथ ही महानगर में भी 10 से 13 मई के बीच हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। मौसम विभाग ने कहा कि मंगलवार से शुक्रवार तक गंगीय पश्चिम बंगाल में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है। कोलकाता नगर निगम ने भी तूफान के मद्देनजर विशेष तैयारी की है।
3 जिलों को लेकर विशेष अलर्ट
पूर्व मिदनापुर, दक्षिण 24 परगना और उत्तर 24 परगना के तटीय जिलों में एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। राज्य सरकार के एक अधिकारी ने कहा कि इन तीन जिलों के प्रशासन चक्रवात आश्रयों, स्कूलों और अन्य पक्के ढांचे, सूखा भोजन और किसी भी स्थिति से निपटने के लिए आवश्यक दवाएं तैयार रख रहे हैं। पुलिस और नागरिक सुरक्षा अधिकारियों ने शंकरपुर, फ्रेजरगंज और अन्य स्थानों के मछली पकड़ने के बंदरगाहों पर मछुआरों को खराब मौसम की स्थिति को देखते हुए समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है।
चेतावनी
बारिश- 10 से 13 मई के दौरान तटीय क्षेत्रों में बंगाल के पूर्व मिदनापुर, उत्तर और दक्षिण 24 परगना जिलों में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की संभावना है। कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा की संभावना है
पश्चिम बंगाल तट के लिए मछुआरों की चेतावनी
मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे 10 मई से समुद्र में न जाएं, उन्हें 9 मई की शाम तक तट पर लौटने की सलाह दी गई है।
कार्रवाई सुझाई गई
10 से 13 मई के दौरान मछली पकड़ने और पर्यटन गतिविधियों का निलंबन
सरकार ने यह उठाये उपाय
-नवान्नो ने खोला कंट्रोल रूम
-किसानों को भी किया गया सतर्क
-कोलकाता नगर निगम भी अलर्ट पर
-तटवर्ती जिला प्रशासन को किया गया सतर्क
-एनडीआरएफ की 17 टीमें तैयार

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आज ऐसे करें शिव चतुर्दशी व्रत, जानिए इसके शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और महत्व

कोलकाताः शिव चतुर्दशी व्रत हर महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को किया जाता है। इसे मासिक शिवरात्रि भी कहा जाता है। इस बार ये आगे पढ़ें »

ऊपर