पांचवें चरण का चुनावी रण आज, 45 सीटों पर होगा मतदान

अर्द्धसैनिक बल की 853 कंपनियां रहेंगी तैनात
कोविड के बीच बड़ी चुनौती भी
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : विधानसभा चुनावों के महत्वपूर्ण पांचवें चरण के लिए शनिवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान होगा। राज्य विधानसभा की 294 सीटों में से 45 सीटों पर शनिवार को मतदान होगा, जिसमें मतदाता 319 उम्मीदवारों के भाग्य को ईवीएम में बंद करेंगे। कोविड के बढ़ते मामलों के बीच यह चुनाव करवाना बड़ी चुनौती भी है।
राज्य में पांचवें चरण में 6 जिलों और 45 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होंगे। जिन जिलों में 17 अप्रैल को मतदान होना है, उनमें उत्तर 24 परगना पार्ट-एक, दार्जिलिंग, कलिम्पोंग, पूर्व बर्दवान पार्ट-एक और जलपाईगुड़ी शामिल हैं। कुल 319 उम्मीदवारों में 39 महिला प्रत्याशी भी हैं। मतदान में 1.12 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे, जिनमें से 55.80 लाख महिला और 234 थर्ड जेंडर हैं, बाकी पुरुष मतदाता हैं। मतदान के लिए 15,789 मतदान केन्द्र तैयार किए गए हैं।
चुनाव आयोग ने राज्य में स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण मतदान सुनिश्चित करने के लिए व्यापक सुरक्षा बंदोबस्त किये हैं और केन्द्रीय और राज्य बलों को इसके लिए तैनात किया गया है, जिसमें केन्द्रीय बलों की 853 कम्पनियां तैनात की गयी हैं। इस चरण में पिछले चरण के मुकाबले अधिक सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है। इससे पहले चौथे चरण में 44 सीटों के लिए मतदान के लिए 789 कंपनियों को तैनात किया गया था।
चुनाव अयोग के सूत्रों ने बताया कि 853 कंपनियों में से केवल 283 कंपनियां 24 परगना जिला के लिए तैनात की गयी हैं। यह सुरक्षा व्यवस्था इस उद्देश्य के लिए है कि कूचबिहार जैसी घटना फिर से न हो, जहां कई लोगों ने हिंसा के दौरान अपनी जान गंवा दी।
मंत्री सहित कई हेवीवेट उम्मीदवार
विधाननगर की सीट से भाजपा की ओर से सव्यसाची दत्ता, तृणमूल से मंत्री सुजीत बोस के बीच कड़ा मुकाबला है। पानीहाटी से कांग्रेस के तापस मजुमदार, तृणमूल के निर्मल घोष, कमरहट्टी से पूर्व मंत्री व तृणमूल नेता मदन मित्रा, भाजपा के अनिंद्य बनर्जी (राजू बनर्जी) चुनावी मैदान में हैं। बारासात से अभिनेता व तृणमूल के विधायक चिरंजीत चक्रवर्ती, दार्जिलिंग जिले के माटिगाड़ा-नक्सलबाड़ी सीट से कांग्रेस के शंकर मालाकार, डाबग्राम फूलबाड़ी से मंत्री गौतम देव, राजारहाट न्यू टाउन से तृणमूल के तापस चटर्जी, नदिया के शांतिपुर से भाजपा के सांसद जगन्नाथ सरकार, तृणमूल से अजय दे, बारानगर से तृणमूल के मंत्री तापस राय, भाजपा से अभिनेत्री पार्नो मित्रा, दमदम से तृणमूल के नेता व मंत्री ब्रात्य बसु, रानाघाट उत्तर पश्चिम से तृणमूल के शंकर सिंह, भाजपा के शमिक भट्टाचार्य, राजारहाट गोपालपुर सीट से कीर्तन गायिका अदिति मुंशी को तृणमूल ने उतारा है। माकपा से सिलीगुड़ी की सीट पर अशोक भट्टाचार्य चुनावी मैदान में हैं। पूर्व बर्दवान के रायना से तृणमूल की शंपा धारा भी चुनावी मुकाबले में हैं।
इन सीटों पर मतदान-
जलपाईगुड़ी (7)-धूपगुड़ी (एससी), मयनागुड़ी (एससी), जलपाईगुड़ी (एससी), राजगंज (एससी), देबग्राम फूलबाड़ी, माल (एसटी), नागरकाटा (एसटी)
कलिंपोंग (1)-कलिंपोंग
दार्जिलिंग (5)-दार्जिलिंग, कर्सियांग, माटिगाड़ा-नक्सलबाड़ी (एसटी), सिलीगुड़ी, फांसीदेवा (एसटी)
नदिया (8)- शान्तिपुर, रानाघाट उत्तर पश्चिम, कृष्णगंज (एससी), रानाघाट उत्तर पूर्व (एससी), रानाघाट दक्षिण (एससी), चाकदह, कल्याणी (एससी), हरिनघाटा (एससी)
उत्तर 24 परगना (16)- पानीहाटी, कमरहट्टी, बारानगर, दमदम, राजारहाट -न्यूटाउन, विधाननगर, राजारहाट-गोपालपुर, मध्यमग्राम, बारासात, देगंगा, हाड़वा, मीनाखा (एससी), संदेशखाली (एसटी), बशीरहाट द​क्षिण, बशीरहाट उत्तर, हिंगलगंज (एससी)
पूर्व बर्दवान (8)- खंडघोष (एससी), बर्दवान दक्षिण, रायना (एससी), जमालपुर (एससी), मंतेश्वर, कालना (एससी), मेमारी, बर्दवान उत्तर (एससी)
इस पर भी नजर
कुल पोलिंग बूथ- 15789
कुल मतदाता-11347344
कुल उम्मीदवार- 319
कहां अर्द्धसैनिक बल की कितनी कंपनियां
क्षेत्र – अर्द्धसैनिक बल
उत्तर 24 परगना- 285
विधाननगर पुलिस कमिश्नरेट -46
बशीरहाट पुलिस डिस्ट्रिक्ट- 107
बैरकपुर पुलिस कमिश्नरेट – 62
बारासात पुलिस डिस्ट्रिक्ट- 70
बारासात- 69
बैरकपुर- 61
दार्जिलिंग – 68
जलपाईगुड़ी – 122
कलिंपोंग- 21
कृष्णनगर – 11
पूर्व बर्दवान- 155
रानाघाट – 140
सिलीगुड़ी – 53
कुल कंपनियां – 853

शेयर करें

मुख्य समाचार

रोजाना आ रहे हैं सैकड़ों शव, चरमरा रही है श्मशान घाटों की व्यवस्था

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोरोना की दूसरी लहर का प्रकाेप कुछ इस कदर बढ़ा है कि श्मशान घाटों में रोंगटे खड़े करने वाली तस्वीरें देखने को आगे पढ़ें »

ट्रैफिक गार्ड के ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर का मरम्मत कराएगी पुलिस

कोविड के खिलाफ जंग में लालबाजार ने कसी कमर सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोरोना की दूसरी लहर के दौरान शहरवासियों की हालत खराब है। अस्पताल में बेड आगे पढ़ें »

ऊपर