बड़ी खबरः कोलकाता में टेस्टिंग कराने वाला हर दूसरा व्यक्ति मिल रहा पॉजिटिव

डरावने मिल रहे आंकड़े, जागरूक रहने की सलाह दे रहे हेल्थ एक्सपर्ट
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य में कोरोना इन दिनों कहर सा ढा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय की रिपोर्ट्स के मुताबिक कोलकाता में आरटी-पीसीआर टेस्ट कराने वाला हर दूसरा व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव मिल रहा है। राज्य की बात की जाए तो सैंपल देने वाले हर 4 में से एक व्यक्ति जांच के दौरान संक्रमित मिल रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार कोलकाता की पॉजिटिविटी रेट 55.33% आ गई है।
एक बड़ी लैब के सूत्रों ने रिपोर्ट्स में बताया है कि कोलकाता और इसके आसपास के इलाकों में पॉजिटिविटी रेट 40% से ऊपर तक पहुंच गई है। कई जिलों में यह 10% के ऊपर है।
कुछ ही दिनों में कई गुना बढ़ा संक्रमण
राज्य में साल की शुरुआत में ही कोविड के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन ने कहर ढाना शुरू किया है। पहले जहां जांच कराने पहुंचने वाले 20 में से केवल 1 पॉजिटिव मिल रहा था, वहीं अचानक से अब प्रदेश में पॉजिटिविटी रेट 29.60% हो गई है।
ज्यादा भी हो सकती है संक्रमण की दर
वरिष्ठ फीजिशियन डॉ.एस.के.अग्रवाल ने कहा कि कोविड संक्रमण के वास्तविक आंकड़े दरअसल कहीं ज्यादा हो सकते हैं। इसकी वजह है कि काफी मरीज बिना लक्षणों या कम लक्षणों वाले भी सामने आ रहे हैं। ऐसे लोगों की संख्या काफी है जो कि कोविड टेस्ट करवाने के लिए नहीं पहुंच रहे हैं।
कोविड का नया म्यूटेंट खतरनाक, एक साथ परिवार के सभी मिल रहे संक्रमित
वरिष्ठ पल्मोनोलॉजिस्ट डॉक्टर राजा धर ने कहा कि कोविड के नए म्यूटेंट तेजी से फैलते हैं। यही वजह है कि कम समय में काफी ज्यादा लोग संक्रमित हो रहे हैं। ज्यादातर मामलों में पूरा परिवार ही संक्रमित हो जा रहा है। यह भी कहा जा सकता है कि ओमिक्रॉन वेरिएंट ज्यादा तेजी से फैलने के लिए जिम्मेदार है।
मेडिका ग्रुप के चेयरमैन और न्यूक्लीयर कार्डियोलॉजिस्ट डॉ.आलोक रॉय ने कहा कि टेस्टिंग लैब में अचानक पॉजिटिविटी रेट 50% से ऊपर तक बढ़ गया है। ऐसे में सैंपल टेस्टिंग का दबाव थोड़ा ज्यादा है, हालांकि जांच जरूरी है। जितनी तेजी से वायरस को डिटेक्ट किया जाएगा, इलाज में सुविधा होगी।
धनवंतरी समूह के सीईओ रवींद्र खंडेलवाल ने कहा कि टेस्टिंग बढ़ रही है। इसकी वजह है कि सेल्फ कोविड टेस्टिंग किट की मांग हाल के दिनों में कई गुना बढ़ी है।
सस्ता सुंदर.कॉम के संस्थापक बी.एल. मित्तल ने कहा कि हैण्ड सैनिटाइजर, मॉस्क, इंफ्रारेड थर्मामीटर के रूप में 3 उत्पादों की मांग अधिक बढ़ी है। अलग-अलग कंपनियों के सेल्फ कोविड टेस्टिंग किट की मांग हाल के दिनों में अचानक बढ़ी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

रायगढ़ में संदिग्ध नाव मिलने से हड़कंप

महाराष्ट्र : महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में संदिग्ध नाव मिलने से हड़कंप मच गया है। नाव में एके-47 राइफल, कुछ राइफलें व भारी संख्या में आगे पढ़ें »

ऊपर