डीवीसी का रात को पानी छोड़ना अपराध : ममता

सन्मार्ग संवाददाता
आरामबाग : दुर्गापूजा से ठीक पहले राज्य के कई जिलों में बाढ़ जैसी स्थिति बन गई है। शनिवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दक्षिण बंगाल के बाढ़ प्रभावित विभिन्न जिलों का हवाई दौरा किया। शनिवार की दोपहर में हुगली जिले के आरामबाग में बने हेलीपैड पर ममता बनर्जी का हेलिकॉप्टर उतरा। उसके बाद सड़क मार्ग से मुख्यमंत्री बाढ़ प्रभावित क्षेत्र कालीपुर में गईं। कालीपुर जाकर ममता बनर्जी ने वहां की बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया, साथ ही उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों और स्थानीय लोगों से भी बातचीत की। ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य सरकार को बिना बताए पानी छोड़ना क्राइम है। शनिवार को एक बार फिर ममता बनर्जी ने राज्य में बाढ़ जैसी स्थिति के लिए डीवीसी को ही जिम्मेदार ठहराया। ममता बनर्जी ने इस बाढ़ को एक बार फिर मैन मेड बताते हुए यह समझाया कि राज्य में बाढ़ जैसी स्थिति आखिरकार क्यों बनी है। ममता बनर्जी ने कहा कि 30 सितंबर को जिस दिन भवानीपुर में चुनाव था उस दिन 12 बजे पंचेत और माइथन से 49000 क्यूसेक जल छोड़ा गया। इसके बाद 1 बजे एक लाख क्यूसेक जल छोड़ा गया। इसके बाद 8:30 बजे डीवीसी ने 1,25,000 क्यूसेक जल छोड़ा। अर्थात 30 तारीख को ही तकरीबन तीन लाख क्यूसेक जल छोड़ा गया और यह जल तब छोड़ा गया जब लोग अपने-अपने घरों में सो रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि नवान्न से 24 घंटे परिस्थिति पर नजर रखी जा रही है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि जल्द ही इलाके का पानी कम होगा। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि डीवीसी को राज्य सरकार के साथ बातचीत करनी चाहिए क्योंकि लोगों में गुस्सा बढ़ रहा है। ममता बनर्जी ने सवाल उठाया कि यदि एक साल में चार बार डीवीसी जल छोड़ेगा तो लोग कैसे बचेंगे। ममता बनर्जी ने कहा कि जब बिहार और झारखंड में ज्यादा बरसात होती है तो पश्चिम बंगाल के लोगों को बाढ़ जैसी परिस्थिति झेलनी पड़ती है। उन्होंने कहा कि झारखंड सरकार को भी डीवीसी से बात करनी चाहिए और अपने बैरेज का संरक्षण करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि इस प्रकार राज्य सरकार को बिन बताए जल छोड़ने का हम विरोध करते हैं। इस दौरान असीमा पात्र, श्रम मंत्री बेचाराम मान्ना, सांसद अपरूपा पोद्दार, विधायक तपन दासगुप्ता , हुगली जिला शासक पि दीपा प्रीया और हुगली ग्रामीण पुलिस के सुपरिटेंडेंट अमनदीप सिंह और जिले के अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

निकाय चुनावों के लिए उम्मीदवार नहीं मिल पा रहे माकपा को

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : बंगाल विधानसभा चुनाव में एक सीट नहीं जीत पाने वाली माकपा का अब यह आलम है कि उसे नगर निकायों के चुनाव आगे पढ़ें »

ऊपर