बंगाल में दुर्गापूजा बनेगा और ऐतिहासिक, 4 महिलाएं करेंगी पहली बार पूजा

कोलकाता : पश्चिम बंगाल में दुर्गा पूजा बड़े धूम धाम से मनाया जाता है। इस साल भी बंगाल में दुर्गा पूजा हर साल की भांति मनाया जाएगा लेकिन इस बार कुछ ऐतिहासिक बदलाव होने जा रहा है। दरअसल इस बार कोलकाता की 66 पल्ली दुर्गा पूजा कमेटी ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। इस बार दुर्गापूजा में पुरुष पुजारी के स्थान पर 4 महिला पुजारी पूजा को संपन्न कराएंगी।

बता दें कि पिछले साल के अंत में पूजा समिति के वयोवृद्ध पुरुष पुजारी के निधन के बाद यह फैसला लिया गया है। बता दें कि अक्टूबर के दूसरे सप्ताह में मां दुर्गा की पांच दिवसीय पूजा होगी और बंगाल का दुर्गा पूजा पूरी दुनिया में मशहूर है। बता दें कि 10 साल पहले नंदिनी रुमा, सीमांती और पॉलोमी ने शुभमस्तु नाम के एक ग्रुप का गठन किया था। उनका समूह जो विभिन्न सामाजिक और धार्मिक आयोजन करता रहा है। इस बात कोलकाता में दुर्गापूजा में पहली बार महिला पुजारी पूजा की रस्में निभाएंगी।

इस बाबत नंदिनी का कहना है कि हमने कभी सोचा नहीं था कि हम दुर्गा पूजा में दुर्गा मां की पुजारी के रूप में पूजा करेंगे। जब हमने शुरुआत की थी तो यह हमारे दिमाग में यह नहीं था। रमा और मैं संस्कृत के प्रोपेसर हैं और हमने महसूस किया कि युवा पीढ़ी को इन अनुष्ठानों में रूची लेनी चाहिए। बता दें कि एक सदस्य पॉलोमी एक शिक्षिका के साथ साथ गायिका भी हैं। नंदिनी की माने तो इनका ग्रुप शादी-समारोहों में अनुष्ठान करती रही हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

मिनी भारत है भवानीपुर, यहीं से शुरू होगी दिल्ली की लड़ाई : ममता

कहा : निष्पक्ष चुनाव हुआ होता तो 30 सीट भी न जीत पाती भाजपा 6 महीने में विधायक बनना जरूरी, इसके बिना सीएम पद उचित नहीं लोगों आगे पढ़ें »

ऊपर