मतदान के दिन न भूलें कोविड प्रोटोकॉल का पालन

मतदान केंद्रों में बिना मॉस्क के नहीं मिलेगा प्रवेश
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य में अंतिम चरण का मतदान गुरुवार को होगा। इस बार कई नियमों का ध्यान रखना मतदान केंद्रों पर आवश्यक होगा। ऐसा नहीं होने पर कार्रवाई की भी संभावना है। चुनाव आयोग ने इस बार कोविडकाल का ध्यान रखते हुए मतदान का समय भी बढ़ाया गया है। पहली बार है कि 80 साल से अधिक उम्र, दिव्यांग व कोविड मरीजों को पोस्टल बैलेट की भी सुविधा दी गई।
मतदान केंद्रों पर यह नियम आवश्यक
-मतदान केंद्रों में मतदान कर्मियों को भी मॉस्क पहनना होगा
-मतदाताओं को पोलिंग बूथ पर प्रवेश करते समय मॉस्क पहनकर आना होगा
-प्रवेश के दौरान ही थर्मल स्क्रीनिंग होगी
-सैनिटाइजर की व्यवस्था रहेगी
-मतदान केंद्रों की संख्या भी बढ़ाई गई है, ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा
-मतदाता के एक हाथ में ग्लव्स दिया जाएगा
-मतदान के पहले व बाद में सैनिटाइज होंगे बूथ
104 डिग्री से अधिक तापमान तो अंत में ही वोट दे पाएंगे मतदाता
इस बार मतदाताओं के बूथ में प्रवेश करने से पहले इंफ्रारेड थर्मामीटर से तापमान की जांच होगी। यदि किसी मतदाता का तापमान 104 डिग्री फारेनहाइट से अधिक होगा, तो मतदाताओं को अंतिम घण्टे के बीच मतदान की अनुमति होगी। इस बार कोरोनाकाल को देखते हुए मतदान की प्रक्रिया शाम 6.30 बजे तक है। ऐसे में अंतिम एक घण्टे के बीच अधिक तापमान आने वाले मदताओं के लिए विशेष व्यवस्था मतदान के लिए रहेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शोभन से मिलने गयीं वैशाखी फफक कर रो पड़ी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : नारदा मामले में सीबीआई ने कोलकाता के पूर्व मेयर शोभन चटर्जी काे निजाम पैलेस से प्रेसिडेंसी जेल में ले जाने के बाद आगे पढ़ें »

इलाका दखल को केंद्र कर तृणमूल के दो गुटों में झड़प, चली गोली, 1 घायल

कैनिंग थानांतर्गत गड़खाली इलाके की घटना इलाके में पुलिस पिकेटिंग सन्मार्ग संवाददाता दक्षिण 24 परगना : कैनिंग में इलाका दखल को केंद्र कर तृणमूल के दो गुटों में आगे पढ़ें »

ऊपर