हिंसा के खिलाफ डॉक्टरों ने किया प्रदर्शन

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के आह्वान पर राज्य में भी डॉक्टरों ने अपनी बिरादरी के सदस्यों के खिलाफ हिंसा से निपटने के लिए एक केंद्रीय कानून की मांग को लेकर शुक्रवार को प्रदर्शन किया। आईएमए के सदस्यों के अलावा वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम, डॉक्टर फोर पेशेंट सहित अन्य डॉक्टर संगठनों ने राज्य के विभिन्न मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में सेव द सेवियर्स के तौर पर काला बैच लगाकर अपना विरोध प्रदर्शन जताया। डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के विरुद्ध केंद्रीय कानून की मांग पर दबाव बनाने के लिए निजी क्लिनिक से जुड़े बड़ी संख्या में डॉक्टरों ने सुबह अपनी क्लीनिक को बंद रखा। आईएमए ने एक बयान में कहा, ‘डॉक्टरों और स्वास्थ्य पेशेवरों के खिलाफ बढ़ती हिंसा को देखकर हम बहुत आहत हैं। वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम की ओर से डॉ. राजीव पांडेय ने कहा कि देखा जा रहा है कि डॉक्टरों पर हिंसा की घटनाएं बढ़ रही हैँ। आईएमए हिंसा के खिलाफ कानून के लिए दबाव बना रहा है। आईएमए के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. जेए जयालाल ने कहा कि उनके अलावा एसोसिएशन ऑफ फिजिशियंस ऑफ इंडिया, द एसोसिएशन ऑफ सर्जन्स ऑफ इंडिया, मेडिकल स्टूडेंट्स नेटवर्क और जूनियर डॉक्टर जैसे कई संगठन इस प्रदर्शन में शामिल हुए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एसिडिटी और जलन के कारण हो गए हैं परेशान तो अब अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

कोलकाता : खानपान में थोड़ी सी लापरवाही के कारण सीने में जलन और एसिडिटी की समस्या हो जाती है। इस समस्या से जब तक निजात आगे पढ़ें »

ऊपर