बंगालः दो वर्षों से सरकारी मदद की आस में टकटकी लगाये हैं दिव्यांग दंपति

पेड़ गिरने से इस दंपति का घर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया था
नागराकाटा : पेड़ गिरने से दो वर्ष पूर्व क्षतिग्रस्त घर के मालिक को आश्वासन के बावजूद आज तक सरकारी सुविधा या मदद नहीं मिली। बरसात के समय इस दिव्यांग दंपति को भीग कर रात गुजारनी पड़ रही है। इस बरसात के समय में कब फिर घर के ऊपर पेड़ गिर कर दोनों उस घर के नीचे दब जाए यह किसी को पता नहीं है। इसलिए रतजगा के लिए बाध्य होना पड़ रहा है। नागराकाटा ब्लॉक स्थित लुकसान मोड़ के निवासी दंपति ने प्रशासन से एक बार फिर मदद की गुुहार लगायी। लुकसान मोड़ निवासी दिव्यांग रामप्रताप पंडित लॉकडाउन होने से आगे प्रतिदिन पैसेंजर ट्रेन में चॉकलेट बिस्कुट इत्यादि सामग्री बिक्री कर अपना जीविका चलाते थे। कोरोना महामारी के कारण जबसे देश में लॉकडाउन लग गया है तब से सभी यातायात साथ ही रेल परिसेवाएं बंद है। जिसके कारण रामप्रताप पंडित फिलहाल पूरी तरह से बेरोजगार हैं । रामप्रताप पंडित की पत्नी फुलकमारी पंडित भी दिव्यांग हैं।
बताया जाता है कि घर क्षतिग्रस्त होने के बाद ब्लॉक प्रशासन एवं कुछ गैर सरकारी संस्थाओं ने गरीब दंपति सहयोग के लिए आगे आए थे । नागराकाटा प्रखंड विकास कार्यालय की ओर से ढंकने के लिए प्लास्टिक और खाद्य सामग्री एवं लॉकडाउन के समय में नागराकाटा थाना प्रभारी की ओर से खाद्य सामग्री दिया गया था। जलपाईगुड़ी ग्रीन वैली वेलफेयर एसोसिएशन और से घर मरम्मत करने के लिए कुछ आर्थिक सहयोग प्रदान किया था। उस समय प्रखंड विकास अधिकारी की ओर से गरीब दिव्यांग दंपति को एक घर प्रदान करने का आश्वासन भी दिया गया था लेकिन आज कोई घर या अन्य सहयोग नहीं मिलने कि बात दंपति ने बताया है। दिव्यांग दंपति का कहना है कि इस बरसात के समय में हम रात भर जग कर रात गुजरते हैं। एक और ब्लॉक प्रशासन की ओर से दिया गया सभी प्लास्टिक फटने के कारण बिस्तर पर पानी गिरता है तो दूसरी और दिन रात घर के ऊपर फिर से पेड़ गिरने की आशंका बनी रहती है। कई बार ग्राम पंचायत ब्लॉक ऑफिस यहां तक की पीडब्ल्यूडी कार्यालय पहुंचकर लिखित रूप में पेड़ को हटाने के लिए आवेदन दिया था लेकिन वहां से कोई आश्वासन नहीं मिला। लॉकडाउन के कारण हम गरीब दंपति के ऊपर आर्थिक संकट है वर्तमान किसी तरह इधर-उधर कर हम दिन और रात का रोजी-रोटी चला लेते हैं। ब्लॉक प्रशासन से निवेदन करना चाहते हैं कि जल्द ही हमें एक छोटा सा घर प्रदान करें साथ ही घर के सामने जो पेड़ है उसे हटाने में हमारी सहयोग करें। नागराकाटा प्रखंड विकास अधिकारी विपुल कुमार मंडल ने कहा दंपति का घर प्राप्त करने वाले तालिका में नाम है या नहीं इसका जांच की जायेगी और उचित व्‍यवस्‍था की जायेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

जोड़ाबागान में करंट लगने से वृद्ध की मौत

कोलकाता: जोड़ाबागान थानांतर्गत दर्पणनारायण टैगौर स्ट्रीट में करंट लगने से एक वृद्ध की मौत हो गयी। मृतक का नाम काशीनाथ ज्योति है। वह हावड़ा के आगे पढ़ें »

ऊपर