चर्चा तेज : पश्चिम बंगाल का अगला राज्यपाल काैन ?

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : जगदीप धनखड़ को उपराष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाये जाने के बाद अब चर्चा तेज हो गयी है कि पश्चिम बंगाल का अगला राज्यपाल कौन होगा ? यहां उल्लेखनीय है कि 2024 में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं, इस बीच जगदीप धनखड़ के बाद अब पश्चिम बंगाल में अगले राज्यपाल के नाम को लेकर चर्चा तेज हो गयी है। हाल में मुख्तार अब्बास नकवी ने अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय से इस्तीफा दिया था जिसके बाद उनके नाम की चर्चा भी उपराष्ट्रपति पद के लिए हुई थी। हालांकि अब जगदीप धनखड़ के नाम की घोषणा के बाद कयास लगाये जा रहे हैं कि संभवतः मुख्तार अब्बास नकवी को केंद्र सरकार पश्चिम बंगाल में राज्यपाल बनाकर भेज सकती है। मुख्तार अब्बास नकवी का जन्म 15 अक्टूबर 1957 को प्रयागराज (तब इलाहाबाद) में हुआ था। नकवी के पिता का नाम एएच नकवी और मां शकीना बेगम हैं। मुख्तार ने पत्रकारिता की पढ़ाई की है। 1998 में रामपुर से भारतीय जनता पार्टी ने मुख्तार अब्बास नकवी को टिकट दिया और वह चुनाव जीत गए। तब उन्हें अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में सूचना प्रसारण मंत्री बनाया गया था। 2014 में जब मोदी सरकार सत्ता में आई तो मुख्तार अब्बास नकवी को अल्पसंख्यक राज्यमंत्री बनाया गया था, 2016 में कैबिनेट का दर्जा मिल गया। 2019 में फिर से जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्ता संभाली तो मुख्तार अब्बास नकवी को फिर से केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री बनाया गया।
उनके अलावा केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान के नाम की भी चर्चा है। आरिफ मो. खान मूल रूप से उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर के हैं। वे भारत के पूर्व कैबिनेट मंत्री हैं। उनके पास ऊर्जा से लेकर नागरिक उड्डयन तक के कई पोर्टफोलियो थे। वह चार बार लोकसभा सांसद और एक बार उत्तर प्रदेश विधानसभा सदस्य और दो बार केेेेन्द्रीय मन्त्री रह चुके हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

इन लोगों के लिए तरक्‍की के नए रास्‍ते खोलेगा यह सप्‍ताह, पढ़ें अपना टैरो राशिफल

कोलकाताः अगस्‍त 2022 का तीसरा हफ्ता बहुत खास है। इस हफ्ते जन्‍माष्‍टमी मनाई जाएगी, सूर्य का राशि परिवर्तन होगा। वहीं टैरो कार्ड रीडिंग के मुताबिक आगे पढ़ें »

ऊपर