दीपेंदु ने छोड़ी भाजपा, देना चाहते हैं फुटबॉल में समय

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कुछ ही महीने में भाजपा से मोह भंग हो गया और तृणमूल के विधायक रहे दीपेंदु विश्वास ने अब भाजपा से भी नाता तोड़ लिया है। उन्होंने ई मेल के मार्फत प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष को अपना इस्तीफा भेज दिया है। फुटबॉलर दीपेंदु विश्वास को वर्ष 2016 के विधानसभा चुनाव में तृणमूल ने टिकट दिया था। बशीरहाट द​क्षिण सीट से उन्होंने जीत दर्ज की थी, लेकिन 2021 के चुनाव में तृणमूल ने उन पर भरोसा नहीं जताया जिस कारण उन्हें टिकट नहीं दिया गया। इसके बाद दीपेंदु नाराज होकर भाजपा में शामिल हो गये थे। हालांकि भाजपा ने भी उन्हें टिकट नहीं दिया, लेकिन उन्हें पार्टी की राज्य कमेटी का स्थायी सदस्य बनाया गया था। इसके बावजूद कुछ ही महीने में दीपेंदु ने भाजपा से दामन छुड़ा लिया। इस बारे में दीपेंदु विश्वास ने सन्मार्ग से कहा, ‘भाजपा के साथ मैं सारे संपर्क तोड़ रहा हूं। जिस तरह राज्य के मंत्रियों को गिरफ्तार किया गया, वह ठीक नहीं हुआ। इसके अलावा मोहम्मडन क्लब का मैं सचिव हूं, ऐसे में क्लब को समय देना होगा। अब राजनीति छोड़ पूरा ध्यान फुटबॉल पर दूंगा।’
यहां उल्लेखनीय है कि विधानसभा चुनाव से पहले तृणमूल छोड़ भाजपा में आने वाले लोगों का तांता लगा हुआ था। हालांकि भाजपा के बुरे प्रदर्शन के बाद अब ऐसा माना जा रहा है कि तृणमूल से भाजपा में आये नेता पुनः घर वापसी कर सकते हैं। अब दीपेंदु विश्वास के पार्टी छोड़ने के बाद इसकी चर्चा और भी तेज हो गयी है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

फाफ डू प्लेसी हेल्‍थ अपडेटः याददाश्त तो….

नई दिल्लीः पाकिस्तान सुपर लीग के मैच में सिर में चोट लगने के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी फाफ डू प्लेसी का बयान आया है। डू प्लेसी ने आगे पढ़ें »

एक साल बाद भी नहीं सुलझी सुशांत सिंह राजपूत की मौत की गुत्थी

मुंबई : सुशांत सिंह राजपूत ने आज ही के दिन एक साल पहले दुनिया को अलविदा कह दिया था। इस मौके पर उनके करीबियों से आगे पढ़ें »

ऊपर