चुनावी हिंसा नहीं रुकने तक विधानसभा नहीं आयेंगे भाजपा नेता : दिलीप घोष

स्पीकर निर्वाचन में भी नहीं शामिल होगी भाजपा
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य में चुनाव बाद हिंसा बंद नहीं होने तक विधानसभा का अधिवेशन बॉयकॉट करने का निर्णय भाजपा ने लिया। शुक्रवार को विधानसभा में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने इस निर्णय की घोषणा की। इधर, आ​ज यानी शनिवार को विधानसभा के स्पीकर का चयन है। इसमें भी भाजपा के विधायक शामिल नहीं होंगे। इस संबंध में दिलीप घोष ने कहा, ‘राज्य में आतंक के माहौल के बीच कई विधायक शपथ लेने नहीं आ सके। मैंने विधायकों से कहा है कि इलाके में जाकर लोगों और कार्यकर्ताओं के साथ खड़े रहे। चुनाव बाद हिंसा बंद नहीं होने तक हमारी पार्टी किसी अधिवेशन में नहीं आयेगी।’ दिलीप घोष ने कहा, ‘राज्य के विभिन्न हिस्सों में अशांति चल रही है। जब तक अशांति बंद नहीं होती, विधायकों की सुरक्षा निश्चित नहीं की जाती, तब तक कोई भी भाजपा विधायक विधानसभा के अधिवेशन में शामिल नहीं होगा।’
सीएम के शपथ ग्रहण का भी किया था बहिष्कार
यहां उल्लेखनीय है कि गत 5 मई को मुख्यमंत्री ममता बन​र्जी के शपथ ग्रहण समाराेह का दिलीप घोष ने बहिष्कार किया था। इसमें भाजपा के परिषदीय दल नेता मनोज टिग्गा व दिलीप घोष को आमंत्रित किया गया था।
बैठक में कहा गया, पीड़ित कार्यकर्ताओं की मदद करें विधायक
पार्टी विधायकाें के साथ हुई बैठक में दिलीप घोष ने विधायकों से कहा है कि चुनावी ​हिंसा में पीड़ित कार्यकर्ताओं के साथ रहें और उनकी मदद करें। जिनके घर भी नहीं बचे हैं, उनके पास चावल, दाल, तिरपाल आदि पहुंचाये। इसके अलावा केंद्रीय नेतृत्व के निर्देश पर पीड़ित कार्यकर्ताओं की आर्थिक मदद किस तरह की जाये, इस पर भी चर्चा हुई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘उत्तर बंगाल में भाजपा की अंत शुरूआत हुई’

कहा - राज्य में भाजपा का पतन निकट अलीपुरदुआर के भाजपा अध्यक्ष सहित 7 नेता तृणमूल में शामिल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : उत्तर बंगाल में भाजपा को झटका आगे पढ़ें »

सेक्स के 4 ऐसे पोजीशन जो रात को बना देती है, खुशनुमा

कोलकाताः सेक्स दुनिया का सबसे अलग एहसास है। हालांकि सेक्स को लेकर तरह-तरह के सवाल सभी के मन में रहते है। इसे लेकर लोगों की आगे पढ़ें »

ऊपर