मां गंगा और प्रभु राम दोनों से दीदी को है नफरत : मोदी

मुझे गाली दिये बगैर पूरा नहीं होता दीदी का दिन
सन्मार्ग संवाददाता
गंगारामपुर : शनिवार को गंगारामपुर में भाजपा की सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि गंगारामपुर के नाम में ही दो-दो पवित्र नाम हैं जो हमारी संस्कृति व संस्कारों को परिभाषित करते हैं। मां गंगा और प्रभु राम के नाम का ये धाम है। मां गंगा बिना भेदभाव सबका भला करती हैं, इसी तरह प्रभु राम भी हर भेद मिटाकर सभी को गले लगाते हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि दीदी को मां गंगा और श्री राम दोनों ही नामों से घृणा है। दीदी गंगा के किनारे बसे लोगों को गाली देती हैं। उनकी भावनाओं का अपमान करती हैं और राम नाम के साथ उनकी नफरत तो जगजाहिर है​।
आज हम बड़े प्लॉट, बड़ी गाड़ियाें और हर महीने काली कमाई की बात सुनते हैं तो पता चलता है कि दीदी ने पूरा ध्यान भाइपो पर लगाया। जब इस दुर्नीति के विरुद्ध मैं सवाल उठाता हूं तो दीदी मुझे गाली देती हैं। कहती हैं कि मोदी से कान पकड़वाकर उठक-बैठक करवायेंगी। आपने जनता को लूटने वालों के कान मरोड़े होते, भाइपो से उठक-बैठक करवायी होती तो आज ये दिन आपको नहीं देखने होते। आज दीदी की सुबह और शाम मोदी को गाली दिये बिना ना शुरू होती है, ना खत्म।
19 मार्च को दीदी ने कहा कि वो मोदी का चेहरा नहीं देखना चाहतीं। देश के पीएम की तुलना लुटेरे, दंगाई, दुर्योधन, दुःशासन से कर दी। 20 मार्च को दीदी ने मुझे श्रमिकों का हत्यारा और दंगा करने वाला बताया। 24 मार्च को कहा ​कि देश का पीएम झूठा है, सिंडिकेट से जुड़ा है। 25 मार्च को दीदी ने कहा ​कि तुम साला, खूनी का राजा, खूनी का जमींदार, तुमने सारे पैसे लूट लिये। 26 मार्च को दीदी बोली कि देश में सिर्फ मोदी की दाढ़ी बढ़ती जा रही है, दिमाग के साथ दिक्कत है, स्क्रू ढीला हो गया है मोदी का। 4 अप्रैल को इस बात पर दीदी भड़क गयीं कि बंगाल में बीजेपी की सरकार बनेगी, कहा कि मैं क्या भगवान हूं। 12 को कहा कि जहां मैं जाता हूं, वहां दंगे होते हैं। 13 अप्रैल को फिर मुझे झूठा और मंद बुद्धि कहा। ये लिस्ट बहुत लम्बी है। दीदी की गालियों से मुझे कोई दिक्कत नहीं है, जितना कोसना है कोसिये, लेकिन बंगाल की महान परंपरा व संस्कृति काे मत भूलिये। देश की जनता बंगाल के समृद्ध विरासत, यहां के लोगों की वाणी पर गर्व करती है। दीदी की गालियों ने मोदी का नहीं, बंगाल की संस्कृति को शर्मसार किया है। दीदी की सरकार ने गुण्डागर्दी, मस्तानी को पार्टी की विचारधारा बनायी है। 2 मई के बाद ये सब नहीं चलेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चक्रवात ताउते में पी 305 नाव लापता, 273 लोग सवार

- आईएनएस कोच्चि सर्च और रेस्क्यू अभियान में जुटी मुंबई : चक्रवात ताउते का कहर लगातार बढ़ता ही जा रहा है।  भीषण चक्रवाती तूफान ताउते अरब सागर आगे पढ़ें »

पुरुष खिलाड़ियों का पता पूछ कर कोरोना टेस्ट करा रहा बोर्ड

नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का पुरुषवादी रवैया सामने आया है। भारत की पुरुष और महिला दोनों टीमों को इंग्लैंड दौरे पर जाना आगे पढ़ें »

ऊपर