देवांजन के ऑफिस का मालिक अशोक कुमार हुआ गिरफ्तार

अशोक कुमार ने अपने रिश्तेदार सहित 50 लोगों को दिलाया था नकली वैक्सीन
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कसबा नकली वैक्सीनेशन कांड में देवांजन को ऑफिस किराये पर देने वाले व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। अभियुक्त का नाम अशोक कुमार राय है। पुलिस के अनुसार देवांजन के फर्जीवाड़े में अशोक भी काफी हद तक शामिल था। देवांजन द्वारा लगायी जा रही वैक्सीन फर्जी है, इसके बारे में अशोक को पहले से खबर थी। पुलिस के अनुसार अभियुक्त ने पूछताछ के दौरान बताया ‌कि नकली वैक्सीन की जानकारी होते हुए भी उसने अपने रिश्तेदारों सहित करीब जान-पहचान के 50 लोगों को उक्त वैक्सीन लगवायी है। पुलिस के अनुसार अशोक ने ही देवांजन द्वारा मिलवाटी पेट्रोल के खिलाफ छापामारी अभियान चलाने और श्रमिक यूनियन के चुनाव की खबर को अखबार में प्रकाशित कराया था। उसने देवांजन की कालाबाजारी को फैलाने में काफी हद तक मदद की थी। फिलहाल जांच अधिकारी यह जानना चाहते हैं कि क्यों सब जानते हुए भी अशोक कुमार ने अपने रिश्तेदारों को नकली वैक्सीन दिलायी। ऐसे में क्या वह इस गिरोह से जुड़ा हुआ है? क्या उसे देवांजन से आर्थिक मदद मिलती थी? उन सभी सवालों का जवाब पुलिस अशोक से पूछताछ कर तलाश रही है। पुलिस के अनुसार अशोक प्रकाशन से जुड़ी संस्था से जुड़ा हुआ था। पुलिस को लगता है कि देवांजन के फर्जीवाड़े के बारे में अशोक को पहले से पता था और उसने रुपये के लालच में उसकी मदद की थी। यहां उल्लेखनीय है कि कसबा स्थित ऑफिस ही देवांजन के फर्जीवाड़े का वॉररूम था। वहीं पर सभी प्लानिंग होती थी। बुधवार को कसबा ऑफिस से जांच अधिकारियों ने कोविशिल्ड के एक हजार फर्जी लेवल जब्त किए हैं। इसके बाद कंप्यूटर से कई ग्राफिक्स जब्त किए गए हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ाबाजार में इमारत की छत से गिरकर व्यक्ति की मौत

आत्महत्या की या हुआ दुर्घटना का शिकार, जांच कर रही है पुलिस कोलकाता : बड़ा बाजार थानांतर्गत महात्मा गांधी रोड स्थित पारख कोठी की छत से आगे पढ़ें »

ऊपर