कोलकाता में को‌विड से मौत इस साल 4 गुना हो सकती है अधिक

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य में कोरोना वायरस के सेकेंड वेव में हो रही अधिक मौतों के आंकड़ों से पता चलता है कि इस साल मौतें 2020 में दर्ज की गई संख्या के 4 गुना अधिक हो सकती है। यदि 2021 में कोलकाता में अब तक प्रमाणित मौतों के आंकड़े कोई संकेत हैं, तो पिछले वर्षों की तुलना में अधिक मौतों की संख्या कोविड से संबंधित मौतों के आधिकारिक दर्ज आंकड़े से 4.5 गुना अधिक नजर आ रही है। अकेले दूसरी लहर के अप्रैल और मई 2021 (27 मई तक) में, अधिक मौतें आधिकारिक तौर पर दर्ज की गई। एसोसिएशन फॉर हेल्थ सर्विस डॉक्टर्स के महासचिव डॉ.मानस गुमटा ने कहा कि संगठन इस ओर इशारा कर रहा है कि संक्रमण और मौतों दोनों की संख्या कम बताई गई है। “वास्तविक मौतें रिपोर्ट की गई मौतों की तुलना में कम से कम तीन से पांच गुना अधिक होंगी। विश्व स्वास्थ्य संगठन के दिशा-निर्देश बताते हैं कि कोविड संदिग्धों के मामले में होने वाली मौतों को कोविड मौतों के रूप में गिना जाना चाहिए, जो कि ऐसा नहीं है। इसके अलावा, शहर की बस्तियों में रहने वाले लोग परीक्षण के दायरे में नहीं आ रहे हैं और कोविड के कारण कई मौतों को नियमित मौतों के रूप में गिना जा रहा। उन्होंने कहा कि देश भर में मौतों की कम रिपोर्टिंग हो रही है।
इन आंकड़ों पर नजर
31 दिसंबर 2020 तक- कुल मौत कोविड से 9,712
28 मई 2021 तक – कुल मौत कोविड से 15,120
31 दिसंबर 2020 तक – कुल कोविड मौत कोलकाता में 2,950
28 मई 2021 तक – कुल कोविड मौत कोलकाता में 4,351
कुल मौत ‌कोविड से अब तक राज्य में -15,120
कुल मौत ‌कोविड से अब तक कोलकाता में -4,351

शेयर करें

मुख्य समाचार

अवैध संबंध की दर्दनाक सजा, नाले में घुसकर हत्याकांड को अंजाम

नागपुर: इश्क और मुश्क छिपाए नहीं छिपती और इसका नतीजा भी घातक ही होता है। महाराष्ट्र के नागपुर से एक ऐसी खबर सामने आई जो आगे पढ़ें »

विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी की जब्त 9,371 करोड़ की संपत्ति बैंकों को किए गए ट्रांसफर

नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने 23 जून को कहा कि उसने भगोड़े अरबपतियों विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चौकसी से जुड़े मामलों में आगे पढ़ें »

ऊपर