कोरोना संदिग्ध मरीज का शव 24 घंटों तक पड़ा रहा घर में

मुश्लिम भाईयों ने करवाया अंतिम संस्कार
बशीरहाट : कोरोना के लक्षणों को लेकर मारे गये व्यक्ति का शव 24 घंटों तक उसके घर में ही पड़ा रहा। जहां कोरोना के डर से मृतक की परिजन व पड़ोसी उसके अंतिम संस्कार को लेकर सामने नहीं आये वहीं आपसी भाइचारा और मानवता की मिशाल पेश करते हुए इलाके के कुछ मुश्लिम भाईयों ने उसके अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी अपने हाथ में ली। यह घटना बशीरहाट अंचल के बादुड़िया थाना अंतर्गत रामचंद्रपुर ग्राम में घटी। इलाके का निवासी व पेशे से ड्राइवर प्रवीर सरकार यहीं अपनी पत्नी मेनका व बेटे इंद्रजीत के साथ सालों से रहता था। उसे पिछले कुछ दिनों से बुखार व सर्दी-खांसी की समस्या लगी थी इस बीच उसकी तकलीफ मंगलवार को बढ़ गयी और उसे सांस लेने में भी तकलीफ होने लगी। मंगलवार की शाम को उसके बेटे ने अपने पड़ोसियों को बताया कि प्रवीर की मौत हो गयी और कोई उसकी मदद के लिए आगे आये। आरोप है कि प्रवीर में कोरोना के लक्षणों को देखते हुए लोगों ने यह धारणा बना ली कि उसकी मौत कोरोना से हो गयी है जिस कारण कोई भी उसके अंतिम संस्कार में परिवार की मदद के लिए आगे नहीं आया। आरोप है कि इंद्रजीत ने अपने रिश्तेदारों को भी संपर्क किया मगर कोई उसकी मदद के लिए आगे नहीं आया। आखिरकार एक शव के 24 घंटे तक घर में ही पड़े होने की खबर पाकर इलाके के कुछ मुश्लिम समुदाय के युवक उस परिवार के पास पहुंचे और प्रवीर का हिंदु रीति से ही अंतिम संस्कार करवाया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘उत्तर बंगाल में भाजपा की अंत शुरूआत हुई’

कहा - राज्य में भाजपा का पतन निकट अलीपुरदुआर के भाजपा अध्यक्ष सहित 7 नेता तृणमूल में शामिल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : उत्तर बंगाल में भाजपा को झटका आगे पढ़ें »

सेक्स के 4 ऐसे पोजीशन जो रात को बना देती है, खुशनुमा

कोलकाताः सेक्स दुनिया का सबसे अलग एहसास है। हालांकि सेक्स को लेकर तरह-तरह के सवाल सभी के मन में रहते है। इसे लेकर लोगों की आगे पढ़ें »

ऊपर