बीच रास्ते में शव उतारा, रुपये भी लेकर फरार हुआ एम्बुलेंस ड्राइवर

शव के साथ घंटों मदद की राह देखती रही बहन
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता/बर्दवान : दोबारा लौट कर आयी महामारी के इस दौर में लोग वैसे ही कोरोना के इलाज को लेकर इधर-उधर भटक रहे है। किसी को अस्पताल में बेड नहीं मिल रहा तो कोई एम्बलेंस के लिए कतारों में इंतजार कर रहा है। इसी सब के बीच एक और अमानवीय घटना दिखी बर्दवान में जहां एम्बुलेंस के ड्राइवर ने बीच सड़क पर शव को उतार दिया और मृतक की बहन के रुपये लेकर चंपत हो गया। सुनने में अजीब लग रहा है लेकिन यह सच है। मृतक का नाम प्रकाश सरकार (35) था जो उत्तर प्रदेश के गौरखपुर में रहता था जहां बीमारी के कारण उसकी मौत हो गयी। उसकी दूर के रिश्ते की बहन बिहार में रहती है जिसे भाई की मौत की खबर दी गयी ताकि वह भाई का शव उसके घर पहुंचा सकें। प्रकाश मूल रूप से नदिया जिले का रहना वाला था। उसकी बहन दिपाली ने गौरखपुर से ही 27 हजार रुपये में एम्बुलेंस किराये पर लेकर भाई के शव के साथ नदिया के लिए रवाना हुई थी। रास्ते भर सब ठीक था लेकिन बर्दवान के नवाबहाट में एम्बुलेंस जब हाई-वे पर पहुंची तब ड्राइवर ने दिपाली के साथ न सिर्फ मारपीट की बल्कि उसके रुपये छीन लिये और शव को सड़क पर ही फेंक कर मौके से फरार हो गया। दिपाली की माने तो सुबह 10 बजे से करीब 4 घंटे तक वह मदद के लिए सड़क पर ही राह ताकती रही लेकिन कोई आगे नहीं आया। आखिरकार रास्ते से गुजर रहे कुछ लोगों ने मामले की जानकारी थाने में दी जिसके बाद महिला किसी तरह घर तक पहुंची।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप: पहली बार तटस्थ स्थल पर मैच खेलेगा भारत

नई दिल्ली : भारत और न्यूजीलैंड के बीच अगले महीने  विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) का फाइनल होगा। जब दोनों टीम रोज बाउल में उतरेगी तो आगे पढ़ें »

बांग्लादेश बनाम श्रीलंका : तेज गेंदगाज रुबेल और महमूद को नहीं मिली जगह

नई दिल्ली : बांग्लादेश और श्रीलंका के खिलाफ होने वाली वनडे सीरीज में तेज गेंदगाज रुबेल हुसैन और हसन महमूद को शामिल नहीं किया गया आगे पढ़ें »

ऊपर