500 साल से अधिक प्रचीन है दही चुड़ा उत्सव, नहीं घटी थी ऐसी घटना

दो सालाें के बाद हुआ आयोजन, उमड़ पड़े भारी संख्या में श्रद्धालु
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : पानीहाटी के इस्कॉन मंदिर के दही चुरा उत्सव के दौरान भारी गर्मी तथा भीड़ के बीच अस्वस्थ्य होने के बाद 4 श्रद्धालुओं की मौत हो गयी एवं भारी संख्या में लोग बीमार पड़ गये। 500 साल से अधिक प्राचीन इस दही चुड़ा उत्सव में पहले कभी भी ऐसी घटना नहीं घटी है। भारी गर्मी के कारण लोग बीमार तो पड़े लेकिन श्रद्धालुओं की मौत नहीं हुई। बता दें कि कोविड के कारण दो सालों से यह उत्सव का आयोजन बंद था। दो साल के अंतराल में हुए इस उत्सव में इस बार एक साथ भारी संख्या में भीड़ उमड़ पड़ी। न केवल स्थानीय बल्कि दूर दराज से भारी संख्या में श्रद्धालु यहां आते हैं।
इस्कॉन के कोलकाता के उपाध्यक्ष राधारमण दास ने सन्मार्ग को बताया कि सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ थी। चुकि रविवार को उमस भड़ी गर्मी काफी ज्यादा थी जिसके कारण लोग बीमार पड़े और यह घटना घटी। उन्होंने अफरातफरी की बात से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि 500 साल से भी अधिक पुराना यह उत्सव है कभी ऐसा नहीं हुआ है। इस दिन मेडिकल टीम भी मौजूद थी। इस दिन सीएम ममता बनर्जी ने उन्हें फोन किया था। सीएम ने इस घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है तथा हर संभव मदद का आश्वासन दिया है। दरअसल, महोत्सव तला घाट पर दही चुड़ा उत्सव का आयोजन होता है। यहां भक्तों को दही चुड़ा खिलाया जाता है। लोगों में इस उत्सव को लेकर काफी आस्था है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

इंटरव्यू के बहाने रेप, कहा- नौकरी चाहिए तो मुझे खुश करना होगा

जयपुर : राजस्थान के जयपुर में 26 साल की एक युवती के साथ नौकरी का झांसा देकर रेप का मामला सामने आया है। शहर के आगे पढ़ें »

ऊपर