हिन्दीभाषी समाज है मुख्यमंत्री के साथ : विवेक गुप्त

हावड़ा : हावड़ा में अन्य जिलों की तुलना में सबसे ज्यादा हिन्दीभाषी लोग रहते हैं। यहां पर मारवाड़ी हो या फिर यूपी-बिहार के लोग हर कोई एक ​दूसरे के साथ मिलकर रहता है, साथ ही मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी हिन्दीभाषियों के साथ हैं। गंगासागर जो कि राज्य का सबसे बड़ा त्योहार है, उसका इंतजाम राज्य स्तर पर किया जाता है। देखा जाये तो हिन्दीभाषी भी मुख्यमंत्री के साथ हैं। यह कहना है पश्चिम बंगाल तृणमूल कांग्रेस हिन्दी प्रकोष्ठ के अध्यक्ष विवेक गुप्त का। वे लिलुआ के गोशाला धाम में आयोजित दही-चिउड़ा कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने हावड़ा के हिन्दीभाषियों के मान को रखते हुए हिन्दी विश्वविद्यालय को हावड़ा में ही बनवाया है ताकि हिन्दी का मान बढ़ सके। इसके साथ ही उन्होंने इस कार्यक्रम के तहत लिलुआ में रोड की समस्या को लेकर भी मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि वे राज्य सरकार को इसकी जानकारी देंगे, ताकि यहां इंडस्ट्रियल इलाके में रोड पर आने-जानेवाले ट्रकों व वाहनों को कोई समस्या न हो। इस कार्यक्रम के मुख्य संरक्षक सह तृणमूल नेता धर्मेंद्र सिंह ने मुख्य अतिथि ​विवेक गुप्त का सम्मान किया। इस मौके पर ​तृणमूल के जिलाध्यक्ष भाष्कर भट्टाचार्य ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी व राज्य के मंत्री अरूप राय ने भी हिन्दीभाषियों को लेकर कई कामों को किया है। वे हमेशा इसके लिए तत्पर रहते हैं। उन्होंने कहा कि वे जिलाध्यक्ष होने के नाते यहां के लोगों की परेशानियों को जानने की कोशिश करेंगे। उनकी बातों को तृणमूल के नेतृत्व के पास रखेंगे। इस मौके पर बंगाल जिला के स्टेट सेक्रेटरी कैलाश मिश्रा, प्रेसिडेंसी जोन के संयोजक राजेश सिन्हा, पूर्व पार्षद तबजील अहमद, प्रबीर रॉय चौधरी, रेखा राउत, देव किशोर पाठक, शोभादेवी मौर्या, रामदास मौर्या, राजीव थम्मन, रियाज अहमद, चैताली विश्वास, सुबीर राउत, पोल्टू बनिक, नारायण मजुमदार, अजय राय, प्रबीर विश्वास, पप्पू मिश्रा, नांटू पांडेय, ओम प्रकाश राय, कृतिक साह, राहुल सिंह, रवि गुप्ता एवं अन्य अतिथि मौजूद थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टेस्ट सीरीज के लिये इंग्लैंड के क्रिकेटर भारत पहुंचे

चेन्नई : भारत के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले दो टेस्ट के लिये बुधवार को कप्तान जो रूट समेत इंग्लैंड क्रिकेट टीम आगे पढ़ें »

सीए ने फिर मांगी, कहा- भारतीय क्रिकेटरों पर हुई थी नस्लीय टिप्पणी

मेलबर्न : क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने बुधवार को पुष्टि की कि सिडनी टेस्ट के दौरान भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज पर नस्लवादी टिप्पणी की गई थी आगे पढ़ें »

ऊपर