निकाय चुनावों के लिए उम्मीदवार नहीं मिल पा रहे माकपा को

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : बंगाल विधानसभा चुनाव में एक सीट नहीं जीत पाने वाली माकपा का अब यह आलम है कि उसे नगर निकायों के चुनाव के लिए उम्मीदवार नहीं मिल पा रहे। पिछले कुछ चुनावों में वामदलों का जो हश्र हुआ है, उसे देखते हुए पार्टी के बहुत से नेता चुनाव लड़ने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे। बंगाल के 116 नगर निकायों के लिए चुनाव की घोषणा जल्द हो सकती है। माकपा अभी से इसकी तैयारियों में जुट गई है। पार्टी के राज्य नेतृत्व की ओर से जिलों की कमान संभाल रहे नेताओं को उम्मीदवार तलाशने को कहा गया है, लेकिन समस्या यह है कि ज्यादातर नेता चुनाव लड़ने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे। माकपा के एक नेता ने नाम प्रकाशित नहीं करने की शर्त पर बताया कि पार्टी की अभी जो स्थिति है, उसमें उसके लिए हर जगह उम्मीदवार खड़ा करना संभव नहीं है। हर जगह अब संगठन पहले जैसा मजबूत भी नहीं रहा। अगर सब जगह उम्मीदवार खड़ा नहीं किया जा सका तो कांग्रेस के साथ चुनावी गठजोड़ पर विचार किया जा सकता है। यह विकल्प अभी मौजूद है। माकपा के राष्ट्रीय महासचिव सीताराम येचुरी भले आगे कांग्रेस के साथ किसी तरह के चुनावी गठबंधन से साफ इन्कार कर चुके हैं लेकिन राजनीति में कुछ भी असंभव नहीं है। माकपा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आगामी 9 नवंबर को होने वाली पार्टी की राज्य कमेटी की बैठक में नगर निकाय चुनावों की तैयारियों पर विस्तार से चर्चा की जा सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

कपूर और लौंग जलाने से दूर होती है घर की….

कोलकाताः लौंग एक ऐसी चीज है जिसका उपयोग अनेक कामों में किया जाता है जैसे किचन में मसाले के रूप में, आयुर्वेद में औषधि के आगे पढ़ें »

ऊपर