कोविड का ग्राफ नीचे, पर सता रही हैं मौसमी बीमारियां

मलेरिया के मामलों ने बढ़ाई चिंता
डॉक्टरों ने सतर्क रहने की दी सलाह
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः कोविड-19 से संक्रमित होने वाले मरीजों की संख्या में अब हर दिन काफी कमी आ रही है। विशेषज्ञों के अनुसार वैक्सीनेशन के साथ ही संक्रमण के मामलों में कमी आ रही है। वरिष्ठ फीजिशियन डॉ.एस.के.अग्रवाल ने कहा कि डॉक्टरों द्वारा बार-बार एक ही चीज दोहराई जा रही है कि, सोशल डिस्टे‌ंसिंग, मास्क का सही प्रयोग और स्वच्छता के साथ अपनी इम्युनिटी को मजबूत बनाए रखें। अब भी कोविड के मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में लोगों को सतर्क रहना होगा। नेशनल वेक्टर बोर्न डिजिज कंट्रोल प्रोग्राम (एनवीबीडीसीपी) के आंकड़ों की मानें तो इस साल राज्य में अब तक मलेरिया के कुल मामलों की संख्या 1413 है। यह आंकड़ा जून तक का है। ऐसे में निश्चित ही इसकी संख्या अधिक होने की संभावना है।
सेकेंड वेव के खत्म होने में अभी समय
डॉ. अग्रवाल ने कहा कि देश में कोरोना की दूसरी लहर अभी भी खत्म नहीं हुई है। तीसरी लहर को लेकर चर्चा है। सेकेंड वेव के खत्म होने में माना जा रहा है कि कुछ समय है। जब एक दिन में मामले दस तक आएंगे तो माना जा सकता है कि सेकेंड वेव खत्म हो गया है। इस बीच महानगर व राज्य के विभिन्न हिस्सों में मलेरिया का प्रकोप बढ़ना शुरू हो गया है। आंकड़े सामने आते ही स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों व डॉक्टरों में चिंता व्याप्त है। ऐसे में स्वच्छता व जागरूकता अभियान बढ़ा दिया गया है। डॉ.अग्रवाल ने कहा कि फिलहाल डेंगू के कुछ ही मामले सामने आए हैं। हालांकि टॉयफायड व मलेरिया के मामले भी सामने दिख रहे हैं। जरूरत है कि लोग जलजमाव न होने दें। साफ-सफाई रखें। खान-पान का ध्यान रखें।
हाल के वर्षों के आंकड़ों पर नजर
साल-कुल मामले-मौत
2017-31265-29
2018-26440-08
2019-25928-06
2020-14049-07
2021-1413-00
(नोट-आंकड़े एनवीबीडीसीपी, 2021 का आंकड़ा जून तक का)

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

इस उम्र की लडकियां चाहती है बिना कंडोम के सेक्स करना

कोलकाता : दुनिया में हमेशा सेक्स को लेकर लड़कों-लड़कियाें के बारे में ना जाने किस-किस तरह की बातें कहीं जातीं हैं। इंडियाना यूनिवर्सिटी ने स्कूल आगे पढ़ें »

ऊपर