कोविड मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराने के नाम पर ऐंठता था रुपये

एआरएस ने अभियुक्त को पकड़ा
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच कोविड अस्पतालों में दलाल और ठगों का गिरोह का सक्र‌िय हो गया। महानगर के अस्पताल में कोविड मरीजों को बेड दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी करने वाले एक जालसाज को पुलिस ने गिरफ्तार किया। घटना पोस्ता थाना इलाके की है। अभियुक्त का नाम शेख नसीरुद्दीन उर्फ शेख नसीर (26) है। कोलकाता पुलिस के एआरएस अधिकारियों ने उसे दक्षिण 24 परगना के पुजाली से गिरफ्तार किया है।
क्या है पूरा मामला
पुलिस के अनुसार बड़ाबाजार के शिवतल्ला स्ट्रीट के रहनेवाले पवन कुमार शर्मा के पास एक व्यक्ति ने खुद को सरकारी अधिकारी बताकर फोन किया। जालसाज ने उसे कहा कि अगर पवन के घर में कोई कोरोना मरीज है तो वह उसका दाखिला सरकारी कोविड अस्पताल में करा देगा। अगर उसे कोविड अस्पताल में किसी को भर्ती कराना है तो 30 से 40 हजार रुपये लगेंगे। अगर पवन उसे रुपये देगा तो वह उसका दाखिला करा देगा। यही नहीं पवन का आरोप है कि अभियुक्त ने मेडिकल सहायता देने के नाम पर उसके पास से रुपये ठगने की कोशिश की। बाद में घटना को लेकर पवन ने पोस्ता थाने में शिकायत दर्ज करायी। मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच की जिम्मेदारी एआरएस अधिकारियों को सौंपी गयी। मामले की जांचके दौरान पुलिस ने शेख नसीरुद्दीन उर्फ शेख नसीर को उसके घर के पास से गिरफ्तार किया। फिलहाल पुलिस अभियुक्त से पूछताछ कर मामले में फरार उसके साथियों की तलाश कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पैरेंट्स ने नहीं दिलाया कुत्ता तो बेटे ने कर ली…

विशाखापट्टनम : एक नाबालिग लड़के ने सिर्फ इसलिए खुदकुशी कर ली कि उसे माता-पिता ने घर में पालने के लिए कुत्ता लाने से मना कर आगे पढ़ें »

5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग : केजरीवाल

नई दिल्ली : राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में दिल्ली सरकार भी आगे पढ़ें »

ऊपर