मॉल्स में वापस आये कोविड नियम, मास्क लगाना जरूरी

ये है गाइडलाइन
* मास्क पहनना अनिवार्य
* हाथों को समय – समय पर साफ करें
* सामा​जिक दूरी बनाये रखें
* अपने चेहरे को बार-बार ना छूएं
* मॉल में सीढ़ियों को पकड़कर आना – जाना ना करें
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कोरोना के मामले बढ़ने के साथ ही अब मॉल्स भी इसके लिए तैयार हो रहे हैं। महानगर के माॅल्स में अब कोविड नियम वापस आ गये हैं। अब बगैर मास्क के इन मॉल्स में एंट्री नहीं हो सकेगी। शॉपिंग मॉल्स में इसे लेकर एक बार फिर पोस्टर लगाये गये हैं। यहां उल्लेखनीय है कि पिछली बार जब कोविड फैला था तो मॉल्स को लम्बे समय के लिए बंद कर दिया गया था। इसका कारण बताया गया था कि मॉल्स ओपन एयर में नहीं होते हैं और एक साथ काफी संख्या में लोगों के आ जाने के कारण संक्रमण फैलने का खतरा अधिक रहता है। वहीं जब मॉल्स खोले गये थे तो उस समय भी क्षमता से आधे लोगों को ही एंट्री दी जा रही थी। हालांकि कोविड कम होने के बाद धीरे – धीरे सब स्वाभाविक हो गया था मगर अब मामले बढ़ने के बाद मॉल्स एक बार फिर तैयार हैं ताकि इस बार आर्थिक नुकसान ना झेलना पड़े।
एंट्री गेट पर लगाये गये पोस्टर
साउथ सिटी मॉल के एंट्री गेट पर पोस्टर लगा दिये गये हैं। पोस्टरों में लिखा है ‘नो मास्क, नो एंट्री।’ इसके अलावा फेस मास्क मैनडेटरी यानी अनिवार्य भी इन पोस्टरों में उल्लेख किया गया है। साउथ सिटी ग्रुप के वाइस प्रेसिडेंट मन मोहन बागड़ी ने कहा कि मॉल के अंदर भी नजर रखी जा रही है कि कोई व्यक्ति बगैर मास्क के ना घूमे। कोविड नियमों का पालन सही तरीके से हो, इसके लिए पूरी व्यवस्था की गयी है।
मॉल्स में सख्त किये गये नियम
अंबुजा नेवटिया ग्रुप के होल टाइम डायरेक्टर (मार्केटिंग एंड इवेंट्स) रमेश पांडेय ने कहा, ‘राज्य सरकार ने मास्क अनिवार्य नहीं किया है जिस कारण हम नो मास्क, नो एंट्री नहीं चालू कर पा रहे हैं। हालांकि हम ग्राहकों से अपील कर रहे हैं और सिटी सेंटर 1 और 2 दोनों में ही हमने नियम सख्त कर दिये हैं। हमेशा मास्क लगाने की अपील लोगों से की जा रही है। फिलहाल यही राहत है कि अस्पतालों में भर्ती कम है। इसके बावजूद हम कोई कमी नहीं रख रहे हैं।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

इस उम्र के बाद बच्चे को जरूर सिखाएं ये 5 काम करना, कई मुश्किलें होंगी आसान

कोलकाता : बच्चों की खास देखभाल और बेहतर परवरिश के लिए पैरेंट्स हर मुमकिन कोशिश करते हैं। बावजूद इसके कुछ बच्चे आलसी नेचर के होते आगे पढ़ें »

ऊपर