एक अप्रैल से 45 पार सबको लगेगा टीका, जानें रजिस्ट्रेशन का समय, प्रक्रिया

कोलकाता : देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच भारत सरकार ने अब वैक्सीनेशन का दायरा बढ़ाने का फैसला किया है। आने वाली एक अप्रैल से देश में 45 साल से अधिक का हर व्यक्ति कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए योग्य होगा। यानी अब किसी गंभीर बीमारी या सिर्फ कोरोना वॉरियर्स होने की पाबंदी नहीं हैं। केंद्रीय कैबिनेट ने बीते दिन इस फैसले पर मुहर लगाई, जिसे वैक्सीनेशन के अभियान को देखते हुए एक अहम कदम माना जा रहा है। भारत में अभी तक पांच करोड़ कोरोना की डोज दी जा चुकी हैं, हर रोज औसतन 30 लाख डोज दिए जा रहे हैं। अब जब कोरोना वैक्सीनेशन का एक और फेज शुरू हो रहा है, तो टीका लगवाने से जुड़े हर नियम और विकल्प को जान लीजिए…
अब कौन लगवा सकता है वैक्सीन?
• कोई भी स्वास्थ्यकर्मी, कोरोना वॉरियर्स, पुलिसकर्मी या सुरक्षाकर्मी कोरोना वैक्सीन लगवा सकता है.
• जिसकी उम्र 45 साल से अधिक है, अब वो भी वैक्सीन लगवा सकता है. पहले ये सीमा 60 साल से अधिक उम्र वाले लोग और 45 साल से अधिक उम्र वाले (गंभीर बीमारी से पीड़ित) लोगों तक ही थी.
कहां लगाई जा रही है वैक्सीन?
देश में कोरोना वैक्सीन सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में लगाई जा रही है। देश में करीब दस हजार प्राइवेट अस्पताल ऐसे हैं, जहां वैक्सीन लगाने की सुविधा है। ये सभी प्राइवेट अस्पताल आयुष्मान भारत योजना से जुड़े हुए हैं। सरकारी और प्राइवेट अस्पताल मिलाकर कुल 40 हजार से अधिक सेंटर्स पर वैक्सीन लगाई जा रही है।
वैक्सीन के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे होगा?
किसी भी व्यक्ति को अगर वैक्सीन लगवानी है तो उसे रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। रजिस्ट्रेशन होने पर ही आपको वैक्सीन लगने की तारीख, समय और स्थान की जानकारी मिल जाएगी। रजिस्ट्रेशन करवाने के भी कई तरीके हैं। सरकार द्वारा https://www.cowin.gov.in/home पोर्टल बनाया गया है, जहां पर आसानी से जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। यहां आपको अपना मोबाइल नंबर डालना होगा, जिसके बाद आधार कार्ड नंबर और अन्य जरूरी जानकारी देकर आप अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अस्पताल में ट्रक पहुंचते ही ऑक्सीजन सिलेंडर लूट कर भागे उपद्रवी

दमोह : मध्य प्रदेश के दमोह जिले के अस्पताल से ऑक्सीजन सिलेंडर की लूट का मामला सामने आया है। जिला अस्पताल में हुई इस घटना आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग : अनिश्चितकाल के लिए बंद हुआ बेलूरमठ

हावड़ा : कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए बेलूरमठ को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है। बेलूरमठ की ओर से दी गई आगे पढ़ें »

ऊपर